ड्यूटी पर जींस और धूप के चश्मे पहनने से है त्रिपुरा सरकार को आपत्ति, निकाला फरमान

www.khaskhabar.com | Published : मंगलवार, 28 अगस्त 2018, 10:27 AM (IST)

नई दिल्ली। अपने बयान व फैसलों से अक्सर विवादों में रहने वाले त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिपल्ब देब एक बार फिर नए फैसले से सुर्खियों में आ गए हैं। ताजा विवाद त्रिपुरा सरकार के अफसरों और कर्मचारियों के ड्रेस कोड से जुड़ा है। इसका फरमान त्रिपुरा सरकार ने 20 अगस्त को जारी किया था।

दरअसल, त्रिपुरा सरकार ने अपने अफसरों और कर्मचारियों से कहा है कि वो ड्यूटी के दौरान जींस, कार्गो पैंट्स और काला चश्मा न पहने, क्योंकि यह अनादर का प्रतीक है।

त्रिपुरा के मुख्य सचिव सुशील कुमार ने कहा था कि अधिकारी बैठकों के दौरान कैजुअल कपड़े जैसे जींस, कार्गो पैंट्स और सनग्लासेस नहीं पहनें। कुछ अधिकारी बैठक के दौरान अपने मोबाइल पर व्यस्त रहते हैं, जो गलत है।

यही नहीं, त्रिपुरा सरकार के दिशानिर्देश में अधिकारियों से राज्यस्तरीय बैठकों के दौरान ड्रेस कोड का पालन करने के लिए कहा गया है. इसमें कहा गया है कि मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री और मुख्य सचिव की अध्यक्षता वाली बैठकों या दूसरी उच्चस्तरीय बैठकों में ड्रेस कोड का सम्मान किया जाना चाहिए है।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

गौरतलब है कि इसके पहले त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने अधिकारियों को जेब से हाथ बाहर निकालने के आदेश दिए थे।

ये भी पढ़ें - यहां मुस्लिम है देवी मां का पुजारी, मां की अप्रसन्नता पर पानी हो जाता है लाल