वियतनाम ओपन के खिताब से चूके जयराम, फाइनल में इनसे हारे

www.khaskhabar.com | Published : रविवार, 12 अगस्त 2018, 5:53 PM (IST)

हो चिन मिन्ह सिटी (वियतनाम)। भारतीय पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी अजय जयराम रविवार को वियतनाम ओपन टूर्नामेंट का खिताब जीतने से चूक गए। वल्र्ड नम्बर-93 जयराम को पुरुष एकल वर्ग के फाइनल में इंडोनेशिया के खिलाड़ी शेसार हिरेन रुस्तावितो ने मात दी। जयराम को वल्र्ड नम्बर-79 रुस्तावितो ने 28 मिनटों के भीतर सीधे गेमों में 21-14, 21-10 से मात देकर खिताबी जीत हासिल की। दोनों के बीच यह दूसरा मुकाबला खेला गया था।

ऐसे में रुस्तावितो ने 2013 में थाईलैंड ओपन में भारतीय खिलाड़ी से मिली हार का बदला भी पूरा किया। इंडोनेशियाई खिलाड़ी ने शुरुआत से ही जयराम पर दबाव बना रखा था। उन्होंने भारतीय खिलाड़ी को 5-2 से पीछे किया। हालांकि, अपनी कोशिश जारी रखते हुए जयराम ने स्कोर 9-10 किया लेकिन रुस्तावितो ने अपने खेल में सुधार कर पहला गेम 21-14 से जीत लिया।

दूसरे गेम में भी जयराम को इंडोनेशियाई खिलाड़ी के आगे कमजोर देखा गया। जयराम की हर गलती का फायदा रुस्तावितो उठा रहे थे और ऐसे में उन्होंने इस गेम में भी 21-10 से जीत हासिल कर खिताब अपने नाम किया।

जिया मिन ने जीता महिला एकल का खिताब


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

सिंगापुर की बैडमिंटन खिलाड़ी येओ जिया मिन ने रविवार को वियतनाम ओपन का खिताब अपने नाम किया। महिला एकल वर्ग के फाइनल में वल्र्ड नम्बर-92 जिया मिन ने चीन की हान युवे को मात दी। जिया मिन ने वल्र्ड नम्बर-27 हान को 35 मिनटों तक चले मुकाबले में सीधे सेटों में 21-19, 21-19 से मात दी और स्वर्ण पदक जीता।

जिया मिन पहली बार चीन की खिलाड़ी हान का सामना कर रही थीं और ऐसे में उन्होंने बिना किसी दबाव के अच्छा खेल दिखाकर खिताबी जीत हासिल की। इसके अलावा, महिला युगल वर्ग में का खिताब जापान की मिसाटो अराटामा और अकाने वतानबे ने अपने नाम किया। मिसाटो और अकाने ने फाइनल मैच में 35 मिनटोंके भीतर अपनी हमवतन जोड़ी नामी मात्सुयामा और चिहारु सीदा को सीधे गेमों में 21-18, 21-19 से हराकर सोना जीता।

ये भी पढ़ें - शनाका ने गेंदबाजी नहीं बल्लेबाजी में किया कमाल, श्रीलंका जीता