धीमी ओवर गति की समस्या से निपटने के लिए प्रस्ताव, पोंटिंग बोले...

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 09 अगस्त 2018, 1:16 PM (IST)

मेलबोर्न। मेरीलेबोने क्रिकेट क्लब (एमसीसी) की विश्व क्रिकेट समिति ने धीमी ओवर गति की समस्या से निपटने के लिए शॉट क्लॉक का प्रस्ताव रखा है जो ओवर खत्म होने के बाद और दूसरा ओवर शुरू होने से पहले उपयोग में आएगी। शॉट क्लॉक ऐसा टाइमर होता है जो खेल की गति को धीमा होने से रोकने में काम आता है। इसमें दर्ज समय के अनुसार खिलाडिय़ों को व्यवहार करना होता है अन्यथा टीम पर किसी न किसी तरह का दंड लगता है।

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, एमसीसी ने यह प्रस्ताव टेस्ट में पिछले 11 साल में धीमी ओवर गति के सबसे निचले स्तर पर पहुंचने के कारण और टी20 में भी लगातार इस समस्या के कारण रखा है। एमसीसी की इस समिति में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग और श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा शामिल हैं।

यह समिति शॉट क्लाक के साथ सजा के तौर पर रनों की पेनल्टी लगाने पर भी विचार कर रही है। हाल ही में पाया गया है कि धीमी ओवर गति का स्तर काफी गंभीर हो गया है। मामले की गंभीरता को समझते हुए आईसीसी मैच रेफरी टीमों के कप्तान पर अभी तक मैच फीस का जुर्माना लगाते रहे हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

पोंटिंग ने कहा कि शॉट क्लॉक ओवर के दौरान उपयोग में नहीं ली जाएगी। दो ओवरों के बीच में जो समय होगा, यह उस समय उपयोग में आएगी। पोंटिंग ने कहा, यह तब इस्तेमाल नहीं की जाएगी जब ओवर चल रहा हो। ओवर के अंत में जब फील्डर और गेंदबाज अपनी-अपनी जगह जा रहे होंगे तब इसका इस्तेमाल किया जाएगा। इसके अलावा जब नया बल्लेबाज क्रीज पर आएगा तब गेंदबाजी करने वाली टीम को तैयार रहना होगा। बल्लेबाज के पास भी निश्चित समय होगा।

पोंटिंग ने कहा की समिति कई तरह की पेनल्टी लगाने के बारे में विचार कर रही है, लेकिन इस पर अभी अंतिम फैसला नहीं लिया गया है। उन्होंने कहा, हम अभी क्या सही है क्या गलत है, इस पर नहीं पहुंचे हैं, लेकिन इस बात पर सहमत हैं कि खिलाडिय़ों पर हाल ही में लगाए गए आर्थिक दंडों से खासकर बीते 12 महीनों में कुछ फायदा नहीं हुआ है। हमें उम्मीद है कि रनों की पेनल्टी लगाने से कुछ फायदा होगा। इससे हमें लगता है कि कप्तान अपने ऊपर जिम्मेदारी लेंगे।

ये भी पढ़ें - आपके फेवरेट क्रिकेटर और उनकी लग्जरी कारें....