इंजेक्शन देकर बच्चियों को किया जाता था जवान, पुलिस ने 11 लड़कियों को बचाया

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 02 अगस्त 2018, 12:00 PM (IST)

हैदराबाद। बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन उत्पीडऩ के मामला अभी थमा ही नहीं था कि तेलंगाना में एक और नया मामला सामने आया है। तेलंगाना में पुलिस ने छापेमारी कर बड़े सेक्स रैकेट का बडा भंडाफोड किया है। पुलिस ने तेलंगाना के हैदराबाद से 11 बच्चियों को बचाया है। साथ ही पुलिस ने एक बड़े सेक्स रैकेट का पर्दाफाश भी किया है, जो लड़कियों को देहव्यापार में धकेलने का काम करता था।

स्कूली ड्रेस में मिली लड़कियां...

टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक, इन लड़कियों को हैदराबाद से 70 किमी दूर यादगिरी गुट्टा में बंद करके रखा गया था। इनमें से कुछ लड़कियां तो स्कूल की ड्रेस में मिली हैं। छापेमारी में पुलिस को लड़कियों पर होने वाले भयानक अत्याचार के बारे में पता चला है।

एक ही परिवार के 8 लोग गिरफ्तार...

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

एक ही परिवार के 8 लोग गिरफ्तार...
पुलिस ने इस मामले में एक ही परिवार के 8 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिसमें 6 महिलाएं शामिल है। इन लड़कियों को हॉर्मोन इंजेक्शन लगाकर सेक्स के लिए बड़ा किया जा रहा था। पुलिस द्वारा बचाई गई लड़कियों में कुछ की उम्र तो सात साल से भी कम है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि तस्कर इन बच्चियों को गरीब परिवारों से खरीदते थे। तस्कर एजेंट के जरिए बच्चियों को खरीदते थे, जहां वह परिवार को एक लडक़ी के लिए एक से दो लाख रुपए देते थे।

तस्करों की नजर होती थी रेलवे स्टेशनों पर...

पुलिस अधिकारी ने बताया कि तस्करों की इस गैंग की नजर रेलवे स्टेशन पर घूमने वाली लड़कियों और घर से भागी हुई लड़कियों पर होती थी। जितनी जवान लडक़ी होती थी, ये उसकी उतनी ज्यादा कीमत मिलती थी। ये सारी जानकारी तस्करों ने पुलिस पूछताछ में बताई है।

एक डॉक्टर की भी पहचान...

यह भी पढ़े : ब्लैकमेलिंग गिरोह में फिल्म और टीवी की कई महिला कलाकार भी शामिल


एक डॉक्टर की भी पहचान...
पुलिस ने बताया कि एक डॉक्टर की पहचान भी हुई है, जिसे ये तस्कर 20 से 25 हजार रुपए हॉर्मोन इंजेक्शन के लिए देते थे। पुलिस के मुताबिक जल्द ही डॉक्टर को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

पुलिस को ऐसे मिली जानकारी...

पुलिस को इस गिरोह की जानकारी उस वक्त मिली जब एक 8 साल की बच्ची अपनी मां की प्रताडऩा से परेशान होकर भाग निकली। बच्ची की कथित मां ने पहले तो दावा किया कि उसने ही बच्ची को जन्म दिया है, लेकिन बाद में पुलिस की पूछताछ में उसने सारी सच्चाई बताई। गौरतलब है कि हाल ही में पिछले दिनों बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका गृह में 34 लड़कियों से रेप की घटना सामने आई थी। जिसके बाद से पुलिस की लगातार जांच जारी है।

यह भी पढ़े : पीएम मोदी के भाई का फर्जी सेक्रेटरी अरेस्ट, केंद्र के अफसरों पर जमाता था रौब