ड्रीम गर्ल का दावा, किसी भी प्रदेश की बन सकती है सीएम

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 26 जुलाई 2018, 6:14 PM (IST)

बांसवाड़ा। बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल कही जाने वाली फिल्म अभिनेत्री व भाजपा सांसद हेमा मालिनी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कामकाज की खूब तारीफ की। इतना ही नहीं सांसद हेमा का दावा है कि अगर वो चाहें तो किसी भी वक्त किसी प्रदेश की सीएम बन सकती हैं, लेकिन वो खुद ऐसा नहीं चाहतीं। उनका कहना है कि अगर ऐसा हुआ तो उनकी आजादी छिन जाएगी।

राजस्थान के बांसवाड़ा दौरे पर आई हेमा मालिनी ने ये बात कही। यहां उन्हें देखने के लिए फैन्स की भारी भीड़ उमड़ी। बता दें हेमा यूपी के मथुरा से बीजीपी सांसद हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

सांसद के तौर पर काम करके भी उन्हें काफी अच्छा लगा...
जब हेमा मालिनी से ये पूछा गया कि आपको सांसद के तौर पर ज्यादा पहचान मिली या फिर एक अभिनेत्री के तौर पर और दोनों में से कौन से काम बेहतर लगा तो उन्हें ये कहने में एक सेकंड भी नहीं लगाया कि उन्हें आज जो भी पहचान मिली है वो बॉलीवुड अभिनेत्री के तौर पर मिली है। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि सांसद के तौर पर काम करके भी उन्हें काफी अच्छा लगा, क्योंकि उन्हें मथुरा के लोगों के लिए काम करने का मौका मिला।

हमारी सरकार ने काफी काम किया...

हेमा मालिनी ने दावा किया कि तमाम सालों में मथुरा में जितना काम नहीं हुआ, उतना उन्होंने चार सालों में किया है। खासकर उन्होंने बड़े पैमाने पर सडक़ों का निर्माण करवाया। मोदी सरकार के काम के सवाल पर हेमा ने कहा कि नरेंद्र मोदी जैसा प्रधानमंत्री मिलना मुश्किल है। हेमा के मुताबिक मोदी गरीबों, किसानों और महिलाओं के लिए खास काम कर रहे हैं। हेमा नेे कहा, पानी और बिजली के लिए भी हमारी सरकार ने काफी काम किया है।

ये भी पढ़ें - राजस्थान में जन्मा मेंढक जैसा बच्चा

नितिन गडकरी की खूब प्रशंसा की...
राज्यों की सडक़ों पर चर्चा करते हुए हेमा ने नितिन गडकरी की भी खूब प्रशंसा की। मोदी सरकार की सराहना करते हुए हेमा मालिनी ने कहा कि, पिछली सरकारें जो 60 साल में कुछ नहीं कर पाई वो हमने चंद सालों में किया है। हमे पांच साल और मिलेगा तो हम और अच्छा काम करेंगे। इस मौके पर हेमा ने राजस्थान का खूबसूरती का भी जिक्र किया। उन्होंने प्रदेश की सीएम वसुंधरा की झीलों के लिए किए गए काम की तारीफ की। बता दें कि इस साल के अंत तक राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने हैं।

ये भी पढ़ें - इस देवस्थान पर चट्टानें भी झुकाती हैं श्रद्धा से सिर