बीमार उद्योग के लिए एकमुश्त समझौतो का एलान जल्दी -उद्योग मंत्री

www.khaskhabar.com | Published : मंगलवार, 26 जून 2018, 8:10 PM (IST)

अमृतसर। उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री पंजाब सुंदर शाम अरोड़ा ने एलान किया कि पंजाब के उद्योग को प्रोत्साहन देने के लिए बनाई गई नई उद्योग नीति अगले महीने लागू कर दी जायेगी, जिसमें बीमार उद्योग को एकमुश्त समझौते (वन टाईम सेटलमेंट) का मौका दिया जायेगा।

स्थानीय उद्योगपतियों और व्यापारियों से उनकी मुश्किलें और मसले सुनने के लिए विशेष तौर पर आए अरोड़ा ने कहा कि वैट रिफंड के बकाया पड़े मामलों से संबंधित वित्त मंत्री के साथ बातचीत हो चुकी है और सरकार हर दो महीनों में 300 करोड़ रुपए का फंड जारी करके दिसंबर 2018 तक सारी रीफंड रकम दे देगी। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा हर महीने उद्योगपतियों के साथ मासिक मीटिंग की जायेगी और तीन महीने के बाद विभागीय तौर पर स्वयं मीटिंगे करके मीटिंगों की कार्यवाही की समीक्षा करूंगा।

अरोड़ा ने बताया कि सरकार राज्य में बेरोजग़ारी और नशों के ख़ात्मे के लिए उद्योग को प्रफुलित करने के लिए यत्नशील है और बतौर मंत्री मैं हर समय पर उद्योगपतियों की सेवा में उपस्थित हूं। अरोड़ा ने बताया कि उद्योग को उत्साहित करने के लिए श्रम, उद्योग और वातावरण विभाग मिलकर काम कर रहे हैं और इसके सार्थक नतीजे निकलेंगे। उन्होंने बताया कि उद्योग विभाग द्वारा सारा काम ऑन लाईन करने की शुरुआत की जा रही है, जिसमें जहाँ समय और पैसों की बचत होगी, वहीं हर अधिकारी और उद्योगपति को उसकी फाइल का स्टेटस पता चलता रहेगा।

पंजाब के उद्योगपतियों की हौसला अफजायी करते हुए उन्होंने कहा कि उद्योगपतियों को पाँच रूपए यूनिट बिजली देने के लिए पावरकौम को 1440 करोड़ रुपए जारी किये जा चुके हैं और बाकी बचती यूनिटों को भी इसी मूल्य पर बिजली देने के प्रयास हो रहे हैं। सीमावर्ती क्षेत्रों के उद्योग संबंधी बोलते हुए श्री अरोड़ा ने कहा कि इनको राहत देने के लिए केंद्र सरकार के पास पहुँच की जा चुकी है और हम कोई भी यूनिट राज्य से बाहर तबदील नहीं होने देंगे। अरोड़ा ने इस मौके पर अमृतसर के कारोबारियों के साथ नए उद्योग लगाने के लिए 590 करोड़ रुपए के इकरारनामे भी किये।

इस अवसर पर संबोधन करते हुए वातावरण मंत्री ओ. पी. सोनी ने कहा कि रोजग़ार की तलाश में विदेशों को जा रहे नौजवानों को रोकनो के लिए पंजाब में उद्योग का विकास ज़रूरी है। उद्योगपतियों की माँग पर बिजली की मुरम्मत के लिए सोमवार को लगने वाले साप्ताहिक कट को रविवार करने का ऐलान भी किया। उन्होंने बताया कि पट्टी-मक्खू रेलवे लाईन के लिए पंजाब सरकार ने अपने हिस्से के 40 करोड़ रुपए जारी करने की मंजूरी दे दी है। उन्होंने व्यापारियों और उद्योगपतियों को खुला न्योता देते हुए कहा कि वह ज़रूरत पडऩे पर मेरे साथ संपर्क करें मैं हर समय उनकी मदद के लिए उपस्थित हूं।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

लोकसभा मैंबर स. गुरजीत सिंह औजला ने इस मौके पर कैबिनेट मंत्री से अपील की कि अमृतसर के उद्योग का छीन चुका दर्जा बहाल करने में वह विशेष ध्यान दे, जिससे यहाँ के औद्योगिक अदारे फिर अपनी पहचान बना सकें। उन्होंने इस लिए विभाग के अधिकारियों को तनमन से काम करने की अपील भी की। विधायक सुनील दत्त ने उद्योग मंत्री का अमृतसर आने पर धन्यवाद किया। भरोसा दिया कि सरकार ने जो वायदे आपके साथ किये हैं, वह हर हाल पूरे किये जाएंगे।

 दूसरों के अलावा इस मौके पर प्रिंसिपल सचिव उद्योग और वाणिज्य राकेश कुमार वर्मा, डायरैक्टर स. डी. पी. एस खरबन्दा ने भी संबोधित किया। दूसरों के अलावा इस मौके पर डिप्टी कमिश्नर स. कमलदीप सिंह संघा,  दीप्ति उपल, अवनीत कुमार आई ए एस, शहरी प्रधान  जुगल किशोर, ग्रामीण प्रधान स. भगवंतपाल सिंह सच्चर, कैप्टन संजीव ओएसडी. और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़े : हजारों साल और एक करोड़ साल पहले के मानसून तंत्र पर जारी है रिसर्च, जाने यहां