शिलॉन्ग में पांचवें दिन भी तनाव जारी, आज अल्पसंख्यक आयोग करेगा दौरा

www.khaskhabar.com | Published : मंगलवार, 05 जून 2018, 08:35 AM (IST)

शिलांग। मेघालय की राजधानी शिलांग में लगातार पांचवें दिन भी तनाव बरकरार है। शिलांग में हालात इस कदर बिगड़े हुए हैं कि सोमवार को मुख्यमंत्री कोनराड संगमा घंटों सचिवालय में ही घिरे रहे। एहतियातन अर्धसैनिक बलों की 15 से अधिक टुकडिय़ों को तैनात कर दिया गया है। इस बीच राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग आज राज्य का दौरा कर वहां हालात का जायजा लेने आ रहा है।
आपको बता दें कि इससे पहले पहले सोमवार को सेना ने शिलांग में फिर हिंसा भडक़ने के बाद फ्लैग मार्च किया। रविवार रात सीआरपीएफ के शिविर पर प्रदर्शनकारियों के हमला करने के बाद फिर से कफ्र्यू लगा दिया है। शिलांग में सीआरपीएफ की 15 से अधिक कंपनियां (प्रत्येक कंपनी में 100 जवान) तैनात की गई हैं। केंद्र ने शहर में शांति बहाल करने के लिये अद्र्धसैनिक बलों की 10 अतिरिक्त कंपनियां भी भेजीं हैं। वहां लगातार चौथे दिन स्थानीय आदिवासियों और पंजाबियों के बीच झड़प के बाद सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा।
आठ घंटे के लिये कफ्र्यू में ढील दिये जाने के बाद रविवार रात फिर से संघर्ष हुआ। इसके बाद पुलिस को भीड़ को शांत करने के लिये आंसू गैस का इस्तेमाल करना पड़ा। अधिकारी ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने मवलाई में सीआरपीएफ शिविर पर पथराव किया। यह शिविर जयाव लुमसिंथ्यू इलाके के ठीक नीचे है. सीआरपीएफ के आईजी प्रकाश डी ने कहा कि सीआरपीएफ के तीन जवानों को मामूली चोट आई है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे