सरकार विशेष रूप से सक्षम व्यक्तियों के कल्याण के लिए वचनबद्ध : मुख्यमंत्री

www.khaskhabar.com | Published : मंगलवार, 29 मई 2018, 10:46 PM (IST)

मंडी। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चन्द गहलोत तथा केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जगत प्रकाश नड्डा की मौजूदगी में मंगलवार को मंडी जिले के सुन्दरनगर में समग्र क्षेत्रीय केन्द्र (कम्पोजिट रिजनल सेंटर), ओपीडी तथा छात्रावास भवन की आधारशिला रखी।
इस अवसर पर ठाकुर ने कहा कि पांच मंजिला यह भवन 30 करोड़ रुपए की लागत से 5500 वर्ग फुट क्षेत्र में निर्मित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भवन में चार आधुनिक ओपीडी अस्पताल तथा विशेष रूप से सक्षम 100 लड़कों व लड़कियों के लिए आवास की सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि यह संस्थान वर्ष 2001 में खोला गया था और उस समय केन्द्र में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार थी।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने हाल ही में चार वर्ष का कार्यकाल पूरा किया है और ये चार साल उपलब्धियों से परिपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि आज भाजपा तथा इसके सहयोगी देश की 70 प्रतिशत आबादी तथा 21 राज्यों में सत्ता में है। उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता को दर्शाता है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर विशेष ओलंपिक के विजेताओं को पुरस्कार भी वितरित किए।
केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि कम्पोजिट केन्द्र विशेष रूप से सक्षम व्यक्तियों के सशक्तिकरण के लिए मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि विशेष रूप से सक्षम बच्चों का सशक्तिकरण समय की आवश्यकता है और केन्द्र सरकार इनका सशक्तिकरण सुनिश्चित करने के प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने तेजाब हमले के पीड़ितों को दिव्यांगजनों का दर्जा देने का निर्णय लिया है। देश में सभी नए सरकारी भवनों को विकलांगजनों के अनुकूल बनाया जा रहा है। केन्द्र सरकार ने पिछले चार वर्षों के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में विकास के नए आयाम स्थापित किए हैं। मोदी सरकार ने आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत देश की 50 करोड़ आबादी को कवर करने वाली देश में विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना शुरू की है। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज हमीरपुर को इसी शैक्षणिक सत्र से आगामी जून में आरम्भ किया जाएगा।

केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चन्द गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रगतिशील नेतृत्व में केन्द्र सरकार समाज के कमजोर वर्गों के कल्याण के प्रति वचनबद्ध है। अब सरकारी सेवाओं में शारीरिक रूप से दिव्यांग लोगों को चार प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया जा रहा है। सभी सरकारी बहुमंजिला भवनों को दिव्यांगजनों के अनुकूल बनाया जाएगा। विशेष रूप से सक्षम लोगों के लिए एक पहचान पत्र बनाया जाएगा, जो पूरे देश में मान्य होगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा विशेष रूप से सक्षम बच्चों के लिए अनेक योजनाएं आरम्भ की गई हैं। देश भर में विशेष रूप से सक्षम बच्चों के लिए पांच राष्ट्रीय खेल केन्द्रों का निर्माण किया जा रहा है।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने कहा कि विशेष रूप से सक्षम बच्चों के लिए समग्र केन्द्र मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा समाज के कमजोर वर्गों, विशेषकर विशेष रूप से सक्षम लोगों के कल्याण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। सांसद रामस्वरूप शर्मा ने कहा कि मण्डी संसदीय क्षेत्र देश का दूसरा सबसे बड़ा संसदीय क्षेत्र है, जिसके विकास पर केन्द्र सरकार द्वारा विशेष ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कम्पोजिट सेंटर विशेष सक्षम बच्चों के लिए लाभदायक सिद्ध होगा।

इस मौके पर भारत विशेष ओलम्पिक की उपाध्यक्ष डॉ. मलिका नड्डा, सुन्दरनगर के विधायक राकेश जम्वाल, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की संयुक्त सचिव डॉली चक्रवर्ती ने विचार रखे। इस अवसर पर समग्र केन्द्र के विद्यार्थियों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। विधायक कर्नल इन्द्र सिंह, हीरा लाल, विनोद कुमार, जवाहर ठाकुर तथा इन्द्र सिंह गांधी, पूर्व मंत्री रूप सिंह ठाकुर, राज्य महिला आयोग की सदस्य पायल वैद्य, उपायुक्त ऋगवेद ठाकुर, पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे