सीएम खट्‌टर ने मीडिया को ये क्या सलाह दे डाली !

www.khaskhabar.com | Published : बुधवार, 18 अप्रैल 2018, 5:56 PM (IST)

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि मीडिया को व्यक्ति विशेष की नहीं बल्कि एक सिस्टम की बात करनी चाहिए, जिससे एक प्रतिस्पर्धा का माहौल कायम होगा और हर सरकार बेहतर सिस्टम देने को बाध्य होगी।

यह बात मुख्यमंत्री ने आज एक समाचार पत्र के कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि मीडिया लोकतंत्र का चौथा स्‍तंभ है। मीडिया को समाचार, विचार और नए सुधारों को जनता तक पहुंचाना चाहिए। उन्होंने मीडिया की भूमिका समझाते हुए कहा कि मीडिया सकारात्मक खबरें और नए सुधार को आम जनता तक पहुंचाये। किसी भी राज्य द्वारा कोई भी अच्छा कार्य किया जाता है तो उसे लोगों के सामने लाए यही मीडिया का कार्य है। उन्होंने कहा कि किसी अन्य राज्य द्वारा कोई नये सुधार के कार्य किये जाते हैं तो हम भी उसे अपनाएंगे। यह प्रेरणा मीडिया के माध्यम से ही जागृत होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने ई- गवर्नेंस पर जोर दिया और अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने शिक्षकों को सम्मान दिया है। इससे पूर्व, शिक्षकों में अपने स्थानांतरण के बारे में भय की भावना व्याप्त थी। लेकिन हमारी सरकार ने पारदर्शी ऑनलाइन अध्यापक स्थानांतरण नीति लागू की, जिसके तहत 93 प्रतिशत शिक्षक अपने पहले, दूसरे और तीसरे विकल्प के अनुसार स्टेशन मिलने से संतुष्ट हैं। ऐसा पहली बार हरियाणा में हुआ और आज देश के 8 से 10 राज्य हरियाणा की इस पारदर्शी ऑनलाइन अध्यापक स्थानांतरण नीति का अनुसरण कर रहे हैं।

इससे पूर्व, पंजाब के राज्यपाल और प्रशासक, संघ शासित प्रदेश चंडीगढ़, वी.पी. सिंह बदनोर, पंजाब के मुख्यमंत्री, कैप्टन अमरिंदर सिंह, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री, जय राम ठाकुर और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री सरदार प्रकाश सिंह बादल ने भी इस अवसर पर बात की। इस अवसर पर हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यू, पूर्व संसद सदस्य सतपाल जैन और अन्य महत्वपूर्ण व्यक्ति भी उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

चंडीगढ़। हरियाणा प्रदेश स्पेन से सिटरस फलों की खेती में सहयोग लेगा। स्पेन की सरकार ने हरियाणा मे सिटरस फलो व जैतून की खेती को बढ़ावा देने और हरियाणा के गन्नौर में बन रही अंतरराष्ट्रीय स्तर की मंडी में सहयोग करने में भी रूचि दिखाई है।

यह जानकारी हरियाणा के कृषि मंत्री ओमप्रकाM धनखड़ ने आज स्पेन में फर्नांडो जे बजरज मोरेनो के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई बैठक के बाद दी। बैठक में सिटरस फलों में उत्कृष्टता केंद्र, जैतून की खेती, प्रोसेसिंग उद्योग, फसल प्रबंधन, जल प्रबंधन, विश्वविद्यालय अनुसंधान एवं विकास पर चर्चा हुई। कृषि मंत्री ने 18 अक्टूबर, 2018 को हरियाणा के गुरग्राम में होने वाले वाडब्ल्यूयूएमएम सम्मेलन में शामिल होने के लिए उन्हें आमंत्रित किया। गत 16 अप्रैल को स्पेन के दौरे पर गए कृषि मंत्री ने स्पेन के थोक बाजार के विश्व संगठन की कांफ्रेंस में भी शिरकत की। थोक व रिटेल बाजारों के सामाजिक दायितव विषय पर आयोजित इस कांफ्रेंस में कई देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए।

इससे पहले स्पेन पहुंचने पर सरकार के उच्च स्तरीय प्रतिनिधी मंडल के साथ बार्सीलोना मे हरियाणा सरकार के कृषि मंत्री औमप्रकाश धनखड़ के नेतृत्व मे गये प्रतिनिधि मंडल ने भेंट की। विशेषतौर पर राजधानी मैड्रिड से दूर बार्सीलोना आये प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व फर्नांडो बुरगस महानिदेशक कृषि, मत्सयन, फूड एंव पर्यावरण विभाग ने किया । इनके साथ डैविड मारटेनिंज फौनतानो, चेयरमैन ( मेरकासा - स्पेनिस पब्लिक सैक्टर्स मार्केट नेटवर्क ) व अन्य प्रतिनिधि सम्मिलित थे । हरियाणा के प्रतिनिधि मंडल मे कृषि सचिव अभिलक्ष लिखी, मार्केटिंग बोर्ड के चीफ एडमिनिस्ट्रेटर मन्दीप बराड़, राजकुमार बेनीवाल, जेएस यादव, स्पेन से भारतीय दूतावास के अधिकारी सर्वान्न व अन्य प्रतिनिधि साथ मौजूद थे ।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

उल्लेखनीय है कि दुनिया मे सिटरस फलों के उत्पादन मे स्पेन अग्रणी राज्य है । भारत से आकार में छह गुणा छोटा होने के बावजूद भी स्पेन तीन करोड़ टन संतरे व दो करोड़ छोटे संतरे (टैंजरीन) तथा 77 लाख टन नीबूं उत्पन्न करता है। स्पेन की सरकार ने हरियाणा में सिटरस फलों व जैतून की खेती को बढ़ावा देने में रूचि व्यक्त की है। इजरायल की तर्ज पर स्पेन के साथ उत्कृष्टता केंद्रों की स्थापना की जा सकती है। इन संभावनाओं पर दोनों देशों के प्रतिनिधियों ने विचार किया । स्पेनिस पब्लिक सैक्टर्स मार्केट में अग्रणी मेरकासा ने गन्नौर में विकसित की जा रही अंतरराष्ट्रीय स्तर की मंडी के विकास में सहयोग देने में रूचि व्यक्त की है।

फूड प्रोसेसिंग में भी स्पेन एक अग्रणी राज्य है। हरियाणा में स्थानीय कंम्पनियों के साथ व्यवसायिक तालमेल आगे बढ़ाने के लिए स्पेन से सरकारी व व्यवसायियों का एक प्रतिनिधि मंडल आगामी अक्तूबर माह में हरियाणा का दौरा करेगा । जिससे स्पेन व हरियाणा सिटरस फल , जैतून की खेती व फूड प्रोसेसिंग में मिलकर आगे बढ़ेंगे। बार्सीलोना में इस समय “ अलमैंटारियां “ ( फूड मेला ) चल रहा है । जिसमें पूरी दूनिया की 157 देशों की चार हजार कंम्पनिया चार हजार स्टाल लगाकर भाग ले रही है । जिसमें स्पेन यूरोप व अन्य देशों के बेस्ट फूड प्रोडक्ट प्रदर्शित किये है ।

ये भी पढ़ें - भगवान शिव को पाने के लिए युवती ने जान दी