सीएम ने पठानकोट में 800 करोड़ के बेवरेजज़ प्लांट की आधारशिला रखी

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 05 अप्रैल 2018, 9:26 PM (IST)

पठानकोट /चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य के तटीय और सीमावर्ती क्षेत्रों के समूचे विकास को यकीनी बनाने के लिए अपनी सरकार की वचनबद्धता को दोहराया है और आज उन्होंने 800 करोड़ रुपए की लागत वाले अत्या-आधुनिक मैसर्ज वरुण बेवरेजज़ लिमिटिड संगठित प्लांट की आधारशीला रखी। मुख्यमंत्री ने सिखों के नौवें गुरू श्री गुरु तेग़ बहादुर जी के प्रकाश उत्सव के अवसर पर लोगों को बधाई देते हुए कहा कि यह प्रोजैक्ट इस क्षेत्र के विकास के लिए मील-पत्थर साबित होगा जिसके लिए उनकी सरकार विभिन्न औद्योगिक और आर्थिक कदमों और रियायतों के द्वारा सख्त कोशिशें कर रही है । मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य के औद्योगिक विकास को राह पर लाने के लिए उनकी सरकार ने विभिन्न कंपनियों के साथ 3700 करोड़ रुपए के 144 सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर किए है । लगभग 41.4 एकड़ क्षेत्रफल में लगाया जा रहा यह प्लांट दो पड़ावों में तैयार होगा । यह लगभग 2000 व्यक्तियों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर रोजग़ार मुहैया करवाएगा । मुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्लांट के साथ इस क्षेत्र में आर्थिक सरगर्मियों को बड़ा प्रोत्साहन मिलेगा और यह स्थानीय कारोबारियों के लिए भी लाभकारी होगा । यह प्लांट 12 महीनों में काम करना शुरू कर देगा । यह डेयरी, जूस और कार्बोनेटिड सॉफ्ट ड्रिंक्स वाला देश में पहला संगठित प्लांट होगा जो स्थानीय दूध उत्पादक किसानों से ताज़ा दूध लेकर अपने प्रयोग में लायेगा । नीबू जाति के फलों से जूस तैयार किया जायेगा जो कि पंजाब में पेप्सी के दिशा -निर्देशों अधीन बनाऐ जाएंगे । दूध की सप्लाई करने वाले कम से -कम 10 हज़ार किसानों को इससे लाभ पहुंचेगा और उनकी आमदन में वृद्धि होगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि इसी तरह लीची और नीबू जाति के फलों की पैदावार करने वाले इस क्षेत्र के किसानों को इस प्रोजैक्ट से लाभ मिलेगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

पैप्सीको के साथ अपनी पुरानी सांझ को याद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने अपनी सरकार के पिछले कार्यकाल के दौरान राज्य में कृषि विभिन्नता को बढ़ावा देने के लिए ट्रोपीकाना की सेवाएंं ली थी । उन्होंने कहा कि नीबू जाति के फलों वाले बहुत से प्लांटों लगाने कोशिशें की गई परंतु अकालियों ने सत्ता में आने के बाद इस अहम प्रोजैक्ट को ठंडे बस्ते में डाल दिया । कांगे्रस के राज्य प्रधान और लोक सभा मैंबर सुनील जाखड़ ने कहा कि यह प्लांट बड़े बदलाव में भूमिका निभाएगा और इस सीमावर्ती क्षेत्र के नौजवानों को रोजग़ार के अवसर मुहैया करवाएगा । उन्होंने कहा कि आज का दिवस जिले के इतिहास में बहुत अहम है क्योंकि आज के दिन यहां एयरपोर्ट और बेवरेजज़ के दो बड़े प्रोजैक्ट स्थापित हुए हैं । उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने अपने एक वर्ष के कार्यकाल के दौरान राज्य में इतना निवेश लाया है जितना कि अकाली बहुत से औद्योगिक सम्मेलन करवा कर भी अपने एक दशक के शासन दौरान भी नहीं ला सके । इस अवसर पर विधायक अनिल विज और जोगिन्दरपाल, वरुण बेवरेजज़ के रवि कांत जयपुरिया और वरुण जयपुरिया, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त विशेष प्रमुख सचिव गिरीश दयालन, डिप्टी कमिश्नर नीलिमा और एस.एस.पी. वी.एस. सोनी उपस्थित थे ।

ये भी पढ़ें - आपके हाथ में पैसा नहीं रूकता, तो इसे जरूर पढ़े