नायब तहसीलदार की दबंगई, चोरी के शक में ड्राइवर की बेरहमी से पिटाई,पार की बेशर्मी की हद

www.khaskhabar.com | Published : शुक्रवार, 16 फ़रवरी 2018, 4:36 PM (IST)

अमरीश मनीष शुक्ला,इलाहाबाद/कौशांबी। यूपी के इलाहाबाद जिले में एक युवक के साथ अमानवी यातना देने की वारदात हुई है। कौशांबी जिले में तैनात नायब तहसीलदार ने अपने ड्राइवर को चोरी के शक में पहले तो बेरहमी पीटा फिर गुप्तांग में पेट्रोल नमक और मिर्च डाल दिया। ऊंचे पद पर बैठे अधिकारी द्वारा दी गई इस यातना खो जिसने भी सुना धन सिहर उठा। घटना के बाद युवक पर यातना के विरोध में किसान यूनियन के लोगों ने जमकर प्रदर्शन किया और नायब तहसीलदार पर कार्यवाही की मांग की।
घायल युवक ने बताया कि चोरी के आरोप में पहले जमकर लाठी डंडे से पिटाई की गई, पिटाई से पूरे शरीर पर जख्म बन गए तो उन जख्मों पर नमक मिर्च रगड़ गया। लेकिन जब इतने से भी नायब साहब का दिल नहीं भरा तो गुप्तांग में पेट्रोल नमक और मिर्च डाल दिया गया।

घर में हुई थी चोरी
कौशांबी के चायल में तैनात नायब तहसीलदार सुरेश चंद्र शुक्ला की निजी गाड़ी भोला साहू चलाता है । बीते 13 फरवरी की रात नायब तहसीलदार के इलाहाबाद स्थित कालिंदीपुरम स्थित फ्लैट में चोरी हो गई। नायब साहब ने चोरी की रिपोर्ट अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज कराई। इस दौरान उन्हें अपने ड्राइवर भोला पर ही शक हुआ और वह भोला व उसके नजदीकी मित्र सचिन को उठा ले गये। अल्लापुर इलाके में भोला को एक कमरे में बंद करके लाठी डंडे से जमकर पीटा गया और चोरी की बात कबूल करने के लिए भोला को यातनाएं दी जाने लगी। हद तो तब हो गई जब उसके जख्मों पर नमक रखना जाने लगा इतने से भी जब नायक साहब का मन नहीं भरा तो उसके गुप्तांगों में पेट्रोल डलवा दिया और मिर्च भी रगडवा दी।
चौराहे पर फेंका
रातभर भोला को यातनाएं दी गई और सुबह उसे चौराहे पर फेंक दिया गया। भोला किसी तरह अपने घर पहुंचा और परिजनों से आपबीती सुनाई तो परिजन भारतीय किसान यूनियन के लोगों के साथ एसएसपी से शिकायत करने पहुंचे। इस दौरान एसएसपी ऑफिस के बाहर मीडिया कर्मी भी पहुंच गए तो भोला ने अपने शरीर पर बने जख्मों को दिखाते हुए तहसीलदार की यातनाओं का जिक्र किया। वह रोते बिलखते हुए नायब तहसीलदार पर कार्रवाई की मांग करता रहा। एसएसपी आकाश कुलहरि दोनों युवकों को अस्पताल में भर्ती करवाया और नायब तहसीलदार व उनके अज्ञात साथियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

क्या कह रहे नायब तहसीलदार

नायब तहसीलदार सुरेश चंद्र शुक्ला ने बताया कि 13 फरवरी की रात मेरे घर पर ना होने की जानकारी सिर्फ ड्राइवर भोला को थी। भोला ने हीं अपने दोस्तों के साथ मिलकर चोरी की और फिर अब मारपीट की मनगढ़ंत कहानी बना रहा है।
क्या कह रहा भोला

अमानवीयता यातना सहने वाले ड्राइवर भोला साहू ने बताया कि 13 तारीख की रात नायब तहसीलदार को स्कार्पियो से छोड़ने वह उनकी ससुराल दारागंज गया था। उसके बाद वह झलवा में दावत खाने चला गया। सुबह नायक साहब घर आए और बुलाकर कालिंदीपुरम ले गए। फिर वहां से कार में बैठाकर किसी जगह पर एक कमरे में बंद कर दिया और फिर चोरी का इल्जाम लगाकर बेरहमी से पीटा। वह मुझे चोरी कबूल करने का दबाव बनाते रहे। मेरे गुप्तांग में नमक, मिर्च, पेट्रोल डालकर पीटते रहे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे