प्रद्युम्न मर्डर: अशोक को क्लीन चिट,वारदात में एक नहीं दो छात्र शामिल!

www.khaskhabar.com | Published : शुक्रवार, 10 नवम्बर 2017, 5:47 PM (IST)

गुरुग्राम। प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या मामले में सीबीआई के बड़े खुलासे के बाद बस कंडक्टर अशोक कुमार को भी बड़ी राहत मिली है। वहीं, सीबीआई अब एक और छात्र की भूमिका की जांच कर रही है। इस मामले में गुरुग्राम पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए बस कंडक्टर अशोक कुमार को सीबीआई ने क्लीन चिट दे दी है। बता दें कि सीबीआई ने इस मामले में स्कूल के 11वीं के एक स्टूडेंट को मंगलवार रात गिरफ्तार किया था। इसके बाद से क्लीनर की गिरफ्तारी सवालों के घेरे में थी। अशोक के वकील मोहित वर्मा ने शुक्रवार को मीडिया को बताया, सीबीआई ने कहा कि अशोक ने हत्या नहीं की है और एजेंसी ने उसे क्लीन चिट दे दी है।

उन्होंने कहा अशोक की जमानत याचिका पर 16 नवंबर को सुनवाई होगी। दूसरी ओर, प्रद्युम्न की हत्या के मामले में एक और बड़ा मोड़ आता दिख रहा है। सीबीआई ने बुधवार को हत्या की इस गुत्थी को सुलझाने का दावा किया और उसी स्कूल के 11वीं के 16 वर्षीय छात्र को मुख्य आरोपी करार देते हुए उसे गिरफ्तार कर बाल न्याय बोर्ड के समक्ष पेश किया था। जहां से उसे तीन दिन की सीबीआई हिरासत में भेज दिया गया। सीबीआई ने गुरुवार को छात्र को स्कूल ले जाकर क्राइम सीन को रिकंस्ट्रक्ट किया, जिससे पता चल सके कि किस तरह प्रद्युम्न की हत्या की गई।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

गिरफ्तारी के बाद इस छात्र ने अपना गुनाह कबूल कर लिया, लेकिन उसके माता-पिता ने अपने बच्चे को फंसाने का आरोप लगाया है। लेकिन, अब सीबीआई एक और छात्र की भूमिका की जांच कर रही है। सीबीआई की जांच अब एक दूसरे छात्र पर केंद्रित है जो आरोपी छात्र के साथ था और जिसने स्कूल के माली और टीचर को बताया था कि टॉइलट में प्रद्युम्न खून से लथपथ पड़ा हुआ है। सीबीआई ने दूसरे छात्र का बयान भी दर्ज किया है। यह बयान सीबीआई हेडक्वॉर्टर में नहीं लिया गया बल्कि किसी दूसरी जगह पर लिया गया।

ये भी पढ़ें - अनाथ और गरीब बच्चों के मन की मुराद पूरी कर रहा है साई सौभाग्य मंदिर