ममता बनर्जी ने नंदीग्राम के शहीदों को याद किया

www.khaskhabar.com | Published : शुक्रवार, 10 नवम्बर 2017, 3:29 PM (IST)

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को उन लोगों को याद किया जिन्हें वह वाम मोर्चा शासन के दौरान राज्य में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की हिंसक राजनीति का शिकार मानती हैं। ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) इस दिन को नंदीग्राम दिवस के रूप में मना रही है।

पार्टी का आरोप है कि 10 नवंबर 2007 को पूर्व मिदनापुर जिले के ग्रामीण इलाकों में माकपा ने बर्बर अत्याचार किए थे। बनर्जी ने ट्वीट किया, आज नंदीग्राम दिवस है। माकपा ने नंदीग्राम के लोगों पर बर्बर अत्याचार किया था। दस साल बाद भी इसकी यादें ताजा है। आज मैं नंदीग्राम, सिंगूर, केशपुर, नानूर सहित बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों के शहीदों को याद कर रही हूं जिन्होंने माकपा की हिंसा में अपनी जान गंवाई।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

वाम मोर्चे की सरकार ने एक पेट्रोकेमिकल केंद्र स्थापित करने के लिए कृषि क्षेत्र के अधिग्रहण की कोशिश की थी जिसके बाद नंदीग्राम में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी। उस समय की विपक्षी पार्टी तृणमूल के नेतृत्व में किसानों ने हिंसक विरोध किया था। इस विरोध प्रदर्शन में हत्याएं हुईं, पुलिस द्वारा गोलीबारी हुई। इसके बाद राज्य सरकार को यह घोषणा पड़ी कि परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण नहीं किया जाएगा।

ये भी पढ़ें - यहां बहन सेहरा बांध, ब्याह कर लाती है भाभी