अब नयनादेवी में संदिग्धों पर लगेगी रोक, पर्ची सिस्टम शुरू

www.khaskhabar.com | Published : बुधवार, 27 सितम्बर 2017, 3:34 PM (IST)

बिलासपुर। नयनादेवी मंदिर में संदिग्ध लोगों के प्रवेश पर पाबंदी लगाने के लिए अब मंदिर में पर्ची सिस्टम शुरू कर दिया गया है। अब मंदिर में बिना पर्ची के प्रवेश नहीं मिलेगा। पर्ची पर प्रत्येक दर्शनार्थी की फोटो सहित उसका पूरा पता लिखा होगा। पर्ची पर दर्शन का समय भी लिखा होगा और उसी के अनुसार दर्शनों की व्यवस्था की गई है। यह नियम सभी के लिए लागू होगा। वीआईपी या वीवीआईपी व्यक्ति को भी पर्ची लेनी होगी। हालांकि वीवीआईपी के लिए कुछ शुल्क लेकर शीघ्र दर्शन कराने की योजना भी बनाई जा रही है। देश के कई बड़े मंदिरों में ऐसी व्यवस्था पहले से ही चल रही है।

ऑनलाइन होगा रिकॉर्ड
मंदिर न्यास नयनादेवी का रिकॉर्ड अब ऑनलाइन किया जाएगा। आय-व्यय में पारदर्शिता लाने के लिए मंदिर न्यास तथा जिला प्रशासन ने इसका कंप्यूटराइजेशन कर दिया है। इसमें मंदिर का चढ़ावा, दान से प्राप्त होने वाला धन, लंगर की इनकम व खर्चा, भंडारण, प्रसाद, वेतन पर खर्च होने वाली राशि, विकास कार्यों पर खर्च होने वाले बजट सहित मंदिर न्यास द्वारा चलाए जा रहे स्कूल व कॉलेज की आय-व्यय का लेखा-जोखा भी अपलोड होगा।



ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे