किसान संगठनों का दिल्ली में ऎलान,16 को देशभर में चक्का जाम

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 10 जून 2017, 9:22 PM (IST)

नई दिल्ली। शनिवार को देशभर के किसान संगठनों ने दिल्ली में बैठक की। बैठक में उन्होंने मध्य प्रदेश सरकार को बर्खास्त करने की मांग की जहां पिछले दिनों किसान आंदोलन के दौरान भडकी हिंसा के दौरान पुलिस की गोलीबारी में 6 लोग मारे गए थे। गांधी पीस फाउंडेशन में जुटे संगठनों ने दावा किया कि मंदसौर में किसान आंदोलन अहिंसक था। उन्होंने कहा कि 16 जून को देशभर में चक्का जाम किया जाएगा।

यह बैठक राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ के अध्यक्ष शिवकुमार शर्मा की पहल पर बुलाई गई थी। बता दें,किसान आंदोलन सात राज्यों में चल रहा है जिनमें मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, कर्नाटक,तेलंगाना, यूपी, राजस्थान और हरियाणा है। किसानों की जो मुख्य मांगें हैं उनमें लागत के आधार पर पचास प्रतिशत लाभकारी मूल्य दिए जाने, पूरी फसल खरीदी जाना और कर्ज माफी है।

इस बीच किसानों के समूह ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री से अपनी मांगों पर ध्यान देने का आश्वासन मिलने पर अपना विरोध प्रदर्शन अस्थायी रूप से वापस ले लिया। नेशनल साउथ इंडियन रीवर्स इंटर-लिंकिंग फार्मर्स एसोसियेशन के प्रमुख पी अय्यकन्नू ने व्यापक सूखा राहत सहित विभिन्न मांगों पर जोर देने के लिए नई दिल्ली में जंतर-मंतर पर 40 दिनों तक विरोध प्रदर्शन किया था।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

अय्यकन्नू ने चेन्नई में तमिलनाडु के सीएम पलानीस्वामी से मुलाकात के बाद कहा, हमारी मांगों पर ध्यान देने का आश्वासन दिया है जिसके बाद हमने विरोध प्रदर्शन वापस लेने का फैसला किया है। अगर दो महीने में हमारी मांगें पूरी न हुई तो हम अपना विरोध प्रदर्शन बहाल कर देंगे। किसान कर्ज माफी, 40,000 करोड रूपये का सूखा राहत पैकेज और कावेरी प्रबंधन बोर्ड के गठन सहित कई मांगें कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें - ये हैं लोगों से 20 करोड़ से ज्यादा ठगने वाले बाप-बेटे