बेटी के जन्म पर किया कुआं पूजन, गाए मंगल गीत

www.khaskhabar.com | Published : सोमवार, 15 मई 2017, 3:30 PM (IST)

नवीन मल्होत्रा. कैथल। अब तक हमने सुना होगा कि बेटे का जन्म होने पर कुआं पूजन किया जाता है। लेकिन गांव कठवाड में बेटी के जन्म पर कुआ पूजन कार्यक्रम करके एक मिसाल पेश की गई है। इस मौके पर सभी गांव वासियों ने मंगलगीत गाए और नवजन्मी पुत्री के माता-पिता को बधाई दी।

महिला एवं बाल विकास विभाग कैथल ग्रामीण के द्वारा गांव कठवाड में बेटी के जन्म पर कुंआ पूजन किया गया। जिला के गांव कठवाड गांव में रेखा पत्नी जसमेर के घर बेटी ने जन्म लिया, जिसकी सूचना मिलते ही ब्लॉक सीडीपीओ मीना कुमारी मौके पर पहुंची। इसकी सूचना जिला कार्यक्रम अधिकारी रेणु पसरीजा को भी दी गई, जो कि सूचना मिलते ही नवजन्मी बेटी के माता-पिता के घर गए। इसके उपरांत गांव की सभी आगंनवाडी वर्करों व ग्रामवासियों को बुलाया गया। बेटी के जन्म पर सभी रिति-रिवाजों के साथ कुआं पूजन किया गया जिसमें सभी ग्रामवासियों ने बढ़चढ़ कर भाग लिया।

कार्यक्रम में उपस्थित ग्रामवासियों के द्वारा बेटी के जन्म के गीत भी गाए गए व जमकर नाचगान भी किया गया। सभी बेटी के जन्म पर जमकर नाचे।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

जिला कार्यक्रम अधिकारी रेणु पसरीजा ने बच्ची के परिवार को बेटी के जन्म पर बधाई दी व ग्रामवासियों को बेटियों के बारें में जागरूक करते हुए बताया कि बेटी के जन्म पर कुआं पूजन करना एक अच्छी पहल है, जो बेटियों की उज्ज्वल भविष्य को बढाने के लिए किया जाता हैं बेटियों के सुखद भविष्य की कामना करनी चाहिए उन्हे शिक्षा देनी चाहिए। बेटी को बोझ नहीं समझना चाहिए। बेटियां गुणों और सस्कारों की भरी होती है ये बेटों जैसी सबल होती है ये चॉद सी शीतल होती है बेटियां गंगा जैसी पावन होती है। इसके अतिरिक्त उन्होनें बाल शोषण, बाल मजदूरी व किशोर न्याय अधिनियम , पोक्सो एक्ट के तहत सजा के प्रावधान आदि के बारे में जानकारी दी। चाइल्ड लाईन के बारें में भी विस्तार से जानकारी दी।

इस मौके पर जिला बाल सरक्षंण समिति से रविन्द्र शर्मा, सुपरवाईजर अनिता, सरपंच गुलाब सिंह, आगनवाडी वर्कर नीता, गीता,सुनीता, मुकेश, हैल्पर राजकली, सीता, सतरों,महिला मडंल से रीना देवी,पंच, आशा वर्कर व सभी ग्रामवासी उपस्थित रहें।

ये भी पढ़ें - ठगों ने बजाया कुंवारों का बैंड,ठगे लाखों