कंगना के बयानों पर फूटा करण और आनंद का गुस्सा, किया पलटवार

www.khaskhabar.com | Published : गुरुवार, 09 मार्च 2017, 4:35 PM (IST)

बॉलीवुड के फिल्ममेकर करण जौहर अक्सर अपने टीवी टॉक शो कॉफी विद करण में आए मेहमानों की चुटकियां लेने से बाज नहीं आते हैं। पिछले दिनों कॉफी विद करण में जब कंगना पहुंची थी तो उन्होंने बहुत ही बेबाकी से कई मुद्दों पर अपनी राय व्यक्त की थी। उस दौरान कंगना ने कहा था कि करण जौहर बॉलीवुड में नेपोटिज्म (भाई-भतीजावाद) को बढा़वा देते हैं और वो मूवी माफिया हैं। शो के दौरान तो करण कुछ नहीं बोल पाए लेकिन बाद में करण ने कहा कि कंगना विक्टिम कार्ड खेल रही हैं और उन्हें बॉलीवुड इंडस्ट्री इतनी बुरी लगती है तो उन्हें इसे छोड़ देना चाहिए। वहीं कंगना के रोज नए बयानों से परेशान करण ने उन्हें बॉलिवुड छोड़ने की सलाह दे दी तो गुस्से में तमतमाई कंगना ने करण को करारा जवाब देते हुए कहा कि करण बॉलिवुड के बाप बनने की कोशिश न करें। अब खबर है कि कंगना के सबसे करीबी दोस्त और निर्देशक आनंद एल राय ने भी कंगना के नित-नए बयानों से परेशान होकर बेहद नाराज हो गए हैं। सूत्रों के अनुसार कंगना और उनके दो बार निर्देशक रहे आनंद एल राय के बीच सब ठीक नहीं चल रहा है। एक लीडिंग डेली की खबर के अनुसार राय कंगना के झूठे दावों की वजह से उनसे नाराज हैं।






[ अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे]

एक समय था जब आनंद कंगना की तरीफ करते नहीं थकते थे। तब उन्होेंने कहा था कि, मुझे उसपर गर्व है। वो अपनी जिंदगी में वो शख्स बन पाई हैं जो वो बनना चाहती थी। वो पूरी जिंदगी एक फाइटर रही हैं। उसने बहुत कुछ प्राप्त किया है और उसकी यात्रा आसान नहीं थी। यह काफी मुश्किल था और उन्होंने सफलताओं को साथ लेकर बहुत खूबसूरती से काम किया है। मैं बस अपेक्षा करता हूं कि आने वाले समय में वो अच्छा काम डिलिवर करेंगी। कंगना और राय के बीच अनबन होने की खबर एक शॉक की तरह सामने आई है।


[ B Special ...फिर भी अकेली रह गई आइरन लेडी]

बता दें हाल ही में अंग्रेजी अखबार मुंबई मिरर के साथ बातचीत में कंगना ने कहा, ‘करण जौहर एक महिला को उसके महिला होने पर शर्मिंदा क्यों करना चाह रहे हैं? ‘वुमेन कार्ड’ और ‘विक्टिम कार्ड’ का मतलब क्या है? ऐसा कहकर करण जौहर उन महिलाओं का अपमान कर रहे हैं जो वाकई ऐसे ‘कार्ड्स’ का इस्तेमाल कर रही हैं। ये वुमेन कार्ड शायद आपके लिए या फिर किसी ओलंपिक विजेता, किसी राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता के काम भले ही न आए, लेकिन यह एक प्रेग्नेंट महिला को भीड़ भरी बस में ‘महिला’ सीट दिलाने के काम आता है। एक महिला को जब खतरा महसूस होता है तो रोने के तौर पर वो इसका इस्तेमाल कर सकती है। ये ‘विक्टिम कार्ड’ मेरी बहन रंगोली जैसी ऐसिड अटैक विक्टिम के काम आता है जो न्याय पाने के लिए इसका इस्तेमाल करती हैं।’


[ तो इस कारण बिग बी की बेटी नहीं बन पाई एक्ट्रेस!]

कंगना यहीं नहीं रूकीं उन्होेंने आगे कहा, ‘जितना संभव है मैं तरह के कार्ड का इस्तेमाल करती हूं। काम की जगह पर ‘Badass’ कार्ड, परिवार के साथ ‘लव कार्ड’, दुनिया से लड़ते समय ‘डिग्निटी कार्ड’, बस में जगह चाहिए तो ‘वुमेन कार्ड’। हमें ये समझने की जरूरत है कि हम लोगों से नहीं लड़ रहे हैं बल्कि मानसिकता से लड़ रहे हैं। मैं करण जौहर से नहीं लड़ रही हूं, मैं उनकी ‘पुरूष वर्चस्व’ जैसी सोच रखने वाली मानसिकता से लड़ रही हूं।’

साथ ही कंगना ने करण जौहर को ये भी सलाह दी कि उन्हें अपनी बेटी को भी ये सारे कार्ड्स जैसे वुमेन कार्ड, विक्टिम कार्ड, सेल्फ-मेड-इंडिपेंडेंट वुमेन कार्ड देने चाहिए।


[ ये है सलमान की भांजी...रीयल नहीं REEL!]

गौरतलब है कि फिल्ममेकर का गुस्सा तब बेकाबू हो गया था जब अभिनेत्री कंगना रनौत ने भाई-भतीजावाद को लेकर करण जौहर पर ​वार किया था। दरअसल बात ये है कि जब कंगना रनौत करण के टॉक शो काफी विद करण में पहुंची तो बातचीत के दौरान भाई-भतीजावाद को लेकर करण पर हमला कर दिया। करण ने शो के दौरान कुछ नहीं कहा। जिसका जवाब करण ने शो के दौरान न देकर बाद में अपना गुस्सा उतारा।

[ इतनी बेबाक... ये क्या कह दिया सनी लियोन ने]