150 वर्ष पुरानी अष्टधातु मूर्ति चोरी का खुलासा

www.khaskhabar.com | Published : शुक्रवार, 27 जनवरी 2017, 7:50 PM (IST)

वाराणसी। अन्तर्राज्यीय मूर्ति चोर गिरोह के शातिर सदस्य प्रमोद महतो उर्फ तेरे नाम को गिरफ्तार कर भेलुपुर क्षेत्राधिकारी डा. राजेश श्रीवास्तव ने थाना भेलुपुर में पत्रकार वार्ता में मामले का खुलासा करते हुए क्षेत्राधिकारी भेलुपुर डा. राजेश श्रीवास्तव ने बताया कि मूर्ति चोरी सम्बन्धित सनसनीखेज मामले के अतिशीघ्र खुलासे और सही मुल्जिमों को चिन्हित कर गिरफ्तारी हेतु एसएसपी नितिन तिवारी व एसपी सिटी राजेश यादव के निकट पर्यवेक्षण में टीम गठित कर विवेचक व प्रभारी चौकी इंचार्ज महेश मिश्रा मशगूल थे कि जरिये खास मुखबिर सूचना मिली कि अस्सी स्थित पंचदेव मंदिर में हुई मूर्ति चोरी की घटना में शामिल एक व्यक्ति दुर्गाकुंड स्थित जालान्स शोरूम में चोरी करने हेतु चक्रमण कर रहा है।


मामले की गंभीरता को देखते हुए आनन फानन में चौकी प्रभारी अस्सी व मामले के विवेचक महेश मिश्रा ने थाना प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार सिंह व क्षेत्राधिकारी को भी सूचित करते हुए मुखबिर द्वारा बताए गए स्थान पर तलाश की और पकड़ कर थाने पर ले आये, जामा तलाशी में उसके पास से चार हजार दो सौ पच्चीस रुपये बरामद हुए।


पुलिस उपाधीक्षक डा. राजेश श्रीवास्तव की पूछताछ में उसने अपना नाम प्रमोद महतो उर्फ तेरे नाम निवासी वीरता चौक थाना घोड़ा सहन जिला पूर्वी चंपारण बिहार बताया और अस्सी के पंच देव मंदिर में स्थापित प्राचीन अष्ट धातु की भगवान कृष्ण की बेस कीमती मूर्ति की चोरी में स्वयं व अपने अन्य साथियों के संलिप्त होने की जानकारी भी दी।



गिरफ्तारी टीम में थाना प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार सिंह, प्रभारी चौकी इंचार्ज महेश मिश्रा, उप निरीक्षक संजय सिंह, शिव बदन तिवारी, कान्स्टेबुल अली अतहर व अखिलेश कुमार थाना लंका जनपद वाराणसी शामिल रहे।

[@ इस पेड से निकल रहा है खून, जानिए पूरी कहानी]

[@ अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे]