मलिक को आरक्षण के विषय पर राजनीति नहीं करनी चाहिए-मुख्यमंत्री

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 21 जनवरी 2017, 4:51 PM (IST)

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने शनिवार को कहा कि जाट आरक्षण के विषय को लेकर यशपाल मलिक को किसी भी प्रकार की राजनीति नहीं करनी चाहिए। क्योंकि यह विषय अब कोर्ट में विचाराधीन है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल शनिवार को गुरु गोबिंद सिंह के 350वें प्रकाश उत्सव के लिए पूरे प्रदेश से आए हुए संत समाज के लोगों की बैठक के बाद पत्रकारों से बात कर रहें थे।

उन्होंने कहा कि किसी भी इस प्रकार के आंदोलन को राजनीतिक रुप से करने से एक प्रकार से निदंनीय विषय है और इसमें किसी भी प्रकार से अच्छा नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि जहां तक जाट आरक्षण का विषय हैं, तो सरकार ने कानून पारित कर दिया है, चूंकि अब वह मामला कोर्ट में लंबित हैं।

उन्होंने कहा कि यशपाल मलिक जहां तक परोक्ष व प्रत्यक्ष रुपए से आरक्षण के नाम पर जो राजनीति कर रहे हैं वो अच्छा नहीं हैं और उन्हें राजनीति नहीं करनी चाहिए। जाट आंदोलन से निपटने के लिए पूछे गए प्रश्र के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि शांतिपूर्ण तरीके बात की जाएगी तो उसे किया जाएगा, लेकिन अगर किसी भी प्रकार की शांति भंग करने का काम किया जाएगा तो सरकार उससे निपटेगी।

प्रकाश सिंह कमेटी की सिफारिशों के संबंध में पूछे गए प्रश्र के उत्तर में उन्होंने कहा कि जो-जो भी कमेटी में सिफारिशें की गई हैं, यदि वे मानने लायक होगी और सरकार अपने अनुसार इस पर कार्यवाही करेगी। हरियाणा के मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर ने कहा कि गुरुग्राम के चार पैट्रोल पम्पों को दिए गए सीएलयू के संबंध में कुछ अनियमित्ताओं की शिकायत प्राप्त हुई थी, जिस पर जांच की जा रही है।

[@ भगवान शिव को पाने के लिए युवती ने जान दी]

[@ अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे]