अब मेट्रो स्टेशन पर ज्यादा देर रूकना होगा महंगा

www.khaskhabar.com | Published : शनिवार, 09 जनवरी 2016, 6:33 PM (IST)

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मेट्रो स्टेशनों पर भी़ड-भ़ाड कम करने के लिए डीएमआरसी ने एक नया रास्ता निकाला है। इसके अनुसार 18 रूपए तक का टिकट लेने वाले यात्री 65 मिनट तक स्टेशन में रूक सकते हैं। इसी तरह 23 रूपए के टिकट पर सौ मिनट और 23 रूपए से अधिकतम रूपए के टिकट पर तीन घंटे स्टेशन पर रूका जा सकता है। सोमवार से ये नियम लागू होंगे। वर्तमान व्यवस्था के अनुसार एक टिकट पर यात्री दो घंटे पचास मिनट तक रूक सकता है। 11 जनवरी से इन नियमों को तोडने पर 10 रूपए घंटे और अधिकतम पचास रूपए घंटा वसूला जा सकता है। डीएमआरसी के मुताबिक, हर महीने करीब एक लाख लोगों से मेट्रो स्टेशन पर ज्यादा रूकने के चलते जुर्माना वसूला जाता है। लेकिन स्टेशनों पर बढ़ती भी़ड को देखते हुए अब नए सिरे से इस नियम को बनाया गया है। मेट्रो ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्री 18 रूपए तक के टिकट के साथ स्टेशन पर 65 मिनट, 23 रूपए तक के टिकट के साथ 100 मिनट और उससे ज्यादा के टिकट के साथ 3 घंटे तक मेट्रो स्टेशन पर रूक सकेंगे।

गौरतलब है कि दिल्ली में ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू होने के बाद से मेट्रो स्टेशनों पर भीड और बढने लगी है। मेट्रो में कई ऎसे लोग भी यात्रा करते हैं जो बिना वजह मेट्रो स्टेशनों पर बैठे रहते हैं या जिन्हें एक या दो स्टेशन दूर जाना होता हैं लेकिन वो एक दो घंटे मेट्रो में सफर करते रहते हैं और टाइम पूरा होने से पहले अपने स्टेशन पर उतर जाते हैं। मेट्रो के नेटवर्क में अब तक 170 मिनट रहने का प्रावधान है। इससे अधिक देर तक रहने पर यात्रियों पर जुर्माना किया जाता है। डीएमआरसी के प्रवक्ता का कहना है कि निर्धारित समय से अधिक देर तक रहने के कारण हर माह एक लाख से अधिक यात्रियों पर जुर्माना किया जाता है। जुर्माने के प्रावधान के बावजूद भारी संख्या में यात्री निर्धारित समय से अधिक देर तक मेट्रों स्टेशनों पर रहते हैं। इससे स्टेशनों पर भीड भी बढती है। भी़ड को नियंत्रित करने के लिए ऎसे यात्रियों पर प्रतिदिन जुर्माना होता है। जुलाई में 1,18,916 यात्रियों पर जुर्माना किया गया था। दिसंबर में 1,08,513 यात्रियो को जुर्माना किया था। अब देखना होगा कि नए नियम व्यवस्था में सुधार लाते हैं या फिर इससे यात्रियों की मुश्किलों में इजाफा ही होगा।