• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 4

दुष्कर्म में पंजाब नंबर वन, अपहरण में बढोतरी, ड्रग्स का कारोबार, गैंगस्टरों के हमलों ने खोली पुलिस की पोल

कपूरथला। पंजाब पुलिस 2016 में राज्य में कानून व्यवस्था को कायम कर पाने में बुजुर्ग साबित हुई। दुष्कर्म में मिला नंबर वन का ताज। अपहरण में लगातार बढ़ोत्तरी। ड्रग्स तस्करी का सैकड़ों करोड़ का कारोबार, आइएसआइ के हमले, बेलगाम गैंगस्टरों की फौज, पुलिस व जेल पर हमले करके गैंगेस्टर बेखौफ होकर अपने साथियों को कैद से लेकर फरारी के तमाम मामले, धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी और धार्मिक हस्तियों पर लगातार किए जा रहे हमलों ने भी पुलिस की पोल खोली।
पंजाब के मौजूदा कानून व्यवस्था को लेकर पुलिस के चुनिंदा ईमानदार अधिकारी यह कहने में गुरेज नहीं करते हैं कि जब पुलिस के पास पुलिस के अधिकार ही नहीं रहेंगे तो यही हालात होंगे। मसलन सरकार के एक प्रयोग ने खाकी को विधायकों, हलका इंचार्जों जैसे नेताओं के नीचे लगा दिया है। पुलिस सबसे पहले इन्हें रिपोर्ट करती है और इनकी खुशामदीद बनी हुई है।1849 में पंजाब पुलिस की स्थापना के बाद चीन, लद्दाख व कश्मीर की सीमा तक कानून व्यवस्था का राज कायम करने वाले पंजाब का कार्यक्षेत्र अब काफी कम रह गया है, लेकिन 150 सालों में यह पहली बार हुआ कि पुलिस अपने ही अधिकारों के इस्तेमाल के लिए सत्ताधारी नेताओं की मर्जी पर निर्भर हो गई है। नतीजतन, लगातार नेताओं की शह पर लगातार गैंगस्टरों की फौज खड़ी हो रही है और पुलिस का खौफ दिनोंदिन कम होता जा रहा है। न तो महिलाओं के प्रति अपराधों में पंजाब में कोई कमी आई और न ही अपराधियों पर नकेल कसी गई। सैकड़ों महिलाएं अपराधियों का शिकार बनीं।
दुष्कर्म के मामले में पंजाब के लुधियाना को देश में नंबर का दर्जा बीते दो सालों में मिला। साल में 597 दुष्कर्म, 826 प्रताडऩा व 1054 दहेज के दर्ज मामले इस बात की पुष्टि करते हैं कि पंजाब की बदहाल कानून व्यवस्था के चलते महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। अलग बात है कि महिला अपराधों को लेकर पुलिस ने हेल्प लाइन शुरू की। 24 घंटे महिलाओं की हेल्प के लिए कंट्रोल रूम बनाया। इसके बाद भी महिलाएं लगातार अपराधियों का शिकार हो रही हैं।1982 बैच के आइपीएस अफसर सुरेश अरोड़ा को 25 अक्टूबर को बीते साल सूबे की कमान सौंपी गई। इसके बाद उन्होंने पुलिस को विधायकों व नेताओं के शिकंजे से बाहर लाने के तमाम प्रयास किए, लेकिन राजनीतिक दबाव में उनके प्रयास बौने साबित हो रहे हैं।

[@ Exclusive- राजनीति के सैलाब में बह गई देश के दो कद्दावर परिवारों की दोस्ती]

यह भी पढ़े

Web Title-Punjab number one rape, kidnapping increase, turnover of drugs, gangsters attack police opened pole
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: punjab, number, one rape, kidnapping, increase, turnover of drugs, gangsters, attack, police, opened, pole, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, kapurthala news, kapurthala news in hindi, real time kapurthala city news, real time news, kapurthala news khas khabar, kapurthala news in hindi
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

पंजाब से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved