• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

पीएम मोदी ने वैज्ञानिकों से कहा,भूख-कुपोषण के समाधान खोजें

नई दिल्ली। पीएम मोदी रविवार को पहले अंतरराष्ट्रीय कृषि जैव विविधता सम्मेलन का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि भारत जैव-कृषि विविधता का भंडार है। कृषि जैव विविधता के मामले में भारत बहुत ही समृद्ध देश है। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है जब हमें गंभीरता से जैव-कृषि संरक्षण पर सोचने की जरूरत है। एग्रीकल्चर में कल्चर का अहम योगदान होता है,एग्रीकल्चर के सतत विकास के लिए संस्कृति और परंपरा का योगदान जरूरी है। उन्होंने कहा कि 50 से अधिक प्रजातियां रोजाना खत्म हो रही हैं। दुनिया को मिलकर विलुप्त हो रही प्रजातियों को बचाना होगा।

मोदी ने वैज्ञानिकों से कहा कि जैव-विविधता के संरक्षण के साथ भूख और कुपोषण से निपटने के लिए समाधान खोजें। मोदी ने कहा, आज, लाखों लोग भूख, गरीबी और कुपोषण से जूझ रहे हैं। विज्ञान और प्रौद्योगिकी की इन चुनौतियों से लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका है। पीएम ने कहा कि हर एक देश दूसरे देश से कुछ न कुछ सीखता रहता है, और ये सिलसिला लगातार गति से जारी रहना चाहिए। आज हमें उन तरीकों को खोजने की जरूरत है जिससे लोगों की आवश्यकता पर्यावरण को क्षति पहुंचाए बिना हो सके। आपको जानकारी दें कि इस सम्मेलन में 60 देशों के 900 प्रतिनिधि जिन संसाधनों के संरक्षण पर विचार विमर्श करेंगे। 9 नवंबर तक चलने वाले इस सम्मेलन को इंडियन सोसायटी ऑफ प्लांट जेनेटिक रिसोर्सेज एंड बायोडायवर्सिटी इंटरनेशनल द्वारा आयोजित किया जा रहा है। यह सीजीआईएआर का शोध केंद्र है जिसका मुख्यालय इटली के रोम में है।

कृषि विशेषज्ञ एम एस स्वामीनाथन ने कहा कि जैव विविधता संरक्षण महत्वपूर्ण हो गया है। हमारे देश में स्थिति संतोषजनक नहीं है। हमें काफी कुछ करना होगा। उन्होंने कहा कि हर नागरिक का दायित्व है कि जैव विविधता को संरक्षित किया जाये। आईसीएआर ने कहा कि पहले अंतरराष्ट्रीय कृषि जैव विविधता सम्मेलन के लिए भारत उपयुक्त स्थल है क्योंकि दुनिया में यह सर्वाधिक विविधता वाले देशों में से एक है। दुनिया के भू रकबे का यहां मात्र 2.4 प्रतिशत भाग है।



यह भी पढ़े :RJ से छेड़खानी, कहा अब इलाहाबाद में काम नहीं करूंगी, DM ने रोका, SEE PIC

यह भी पढ़े :मरने से पहले बेटी ने सुनाया ससुराल में खुद को जिंदा जलाने का सच...

यह भी पढ़े

Web Title-PM the opening of the international conference of agricultural biodiversity
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: pm, narender modi, delhi, opening, international conference, agricultural biodiversity, 60 country, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved