• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 3

चुनाव आयोग के फैसले के बाद मुलायम-शिवपाल के पास बचे है अब ये विकल्प

लखनऊ। समाजवादी पार्टी में वर्चस्व की लडाई को लेकर चल रहे विवाद पर चुनाव आयोग ने अपने फैसले की मुहर लगा दी। चुनाव आयोग ने समाजवादी पार्टी और चुनाव चिह्न साइकिल पर अखिलेश यादव के दावे जायज ठहराया है। चुनाव आयोग के इस फैसले के साथ ही अखिलेश यादव का सब कुछ हो गया। चुनाव आयोग के इस फैसले से जहां अखिलेश यादव गुट में जीत की लहर है, वहीं पार्टी और चुनाव चिह्न पर दावे करने वाले मुलायम सिंह यादव को जोरदार झटका लगा है। मुलायम सिंह खेमा मायूस नजर आए। फैसला आने के तुरंत बाद अखिलेश यादव अपने पिता मुलायम से मिलने गए और आशीर्वाद लिया। अखिलेश जानते थे कि उनका पक्ष मजबूत है शायद यही वजह थी कि सुलह की सारी कोशिशें नाकाफी साबित हुईं। अब मुलायम और शिवपाल के पास कुछ ही विकल्प बचे हैं।

- पहला विकल्प यह है कि वे चुनाव आयोग का फैसला मान लें और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के तौर पर अपने बेटे अखिलेश यादव को आशीर्वाद दें। इसके अलावा आपातकालीन राष्ट्रीय अधिवेशन में दिए गए नए पद ‘पार्टी संरक्षक’ की जिम्मेदारी संभालें। इससे पार्टी भी मजबूत होगी और उनका राजनैतिक महत्व भी बरकरार रहेगा।

[@ खट्टी मीठी यादें छोड़ गया 2016 ]

यह भी पढ़े

Web Title-mulayam and shivpal have limited options after ec decision
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: mulayam singh yadav, shivpal yadav, limited options, ec decision, cycle and sp, up election 2017, up election, akhilesh yadav, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, lucknow news, lucknow news in hindi, real time lucknow city news, lucknow news khas khabar, lucknow news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved