• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

शिकारियों की सूचना से सरिस्का में हडक़म्प, रातभर चला सर्च ऑपरेशन

Information of poachers in Sariska, overnight search operation - Alwar News in Hindi

अलवर। बाघ व पर्यटकों से खुशहाल होने के बाद अब सरिस्का बाघ परियोजना पर शिकारियों का खतरा फिर से मंडराने लगा है। यही कारण कि इन दिनों सरिस्का जंगल शिकारियों के निशाने पर है। बीती रात भी सरिस्का की तालवृक्ष रेंज के रामपुर क्षेत्र में शिकारियों के घुसने की सूचना से हडक़म्प मच गया। सरिस्का टीम ने सुबह 4 बजे तक खोजबीन करती रही लेकिन, शिकारियों का पता नहीं चल सका। सरिस्का प्रशासन का कहना है कि शिकारी घुसने की सूचना गलत निकली। वहीं ग्रामीणों का कहना था कि रामपुर क्षेत्र से 7 शिकारी 4 कुत्तों के साथ जंगल में घुसे थे। तालवृक्ष रेंज के रेंजर संतोष कुमार ने बताया कि ग्रामीणों ने रामपुर क्षेत्र से करीब 7 शिकारियों के सरिस्का जंगल में घुसने की सूचना दी। इस पर सरिस्का सीसीएफ आरएस शेखावत के निर्देश पर 6 रेंजों के वनकर्मियों की टीम ने जंगल में नाकाबंदी की लेकिन, वनकर्मियों के सर्च ऑपरेशन की भनक लगने पर शिकारी इधर-उधर छिप गए। सरिस्का प्रशासन ने शिकारियों की गिरफ्तारी के लिए मुखबिर लगाए हैं। एसीएफ सुरेन्द्र सिंह धाकड़ ने बताया कि बीती रात अज्ञात व्यक्ति ने मोबाइल पर रामपुर क्षेत्र से सरिस्का में शिकारियों के घुसने की सूचना दी। इस पर सरिस्का की 6 रेंजों की टीम मौके पर पहुंची और शिकारियों की खोजबीन की, लेकिन टीम को शिकारी नहीं मिले। बाद में सरिस्का अधिकारियों ने सूचना देने वाले अज्ञात व्यक्ति के मोबाइल पर कॉल कर शिकारियों के बारे में जानकारी लेने का प्रयास किया लेकिन, मोबाइल बंद मिला। शिकारियों का अता-पता नहीं लगने पर वनकर्मियों की टीम लौट आई। बता दें कि वर्ष 2005 में सरिस्का को बाघ विहीन घोषित किया जा चुका था। यानि सरिस्का में पूर्व में रहे 20 से 25 बाघों का शिकारियों ने सफाया कर दिया। बाद में इस मामले की जांच के लिए सरकार टास्क फोर्स का गठन किया एवं सीबीआई से जांच कराई। बाद में सरकार ने रणथम्भौर से पुन: सरिस्का में बाघों का पुनर्वास कराया। वर्तमान में यहां 14 बाघ हैं। हालांकि इनमें ज्यादातर बाघों को रेडियो कॉलर लगाई हुई है। लेकिन, सरिस्का बाघ परियोजना में बसे गांवों की विस्थापन प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाने से शिकारियों का खतरा कम नहीं हुआ है। सरिस्का क्षेत्र में पंैथर, जरख, सांभर, चीतल व बारहसिंगा भी काफी संख्या में है। सीसीएफ सरिस्का बाघ परियोजना आर.एस. शेखावत ने बताया कि बीती रात तालवृक्ष रेंज के रामपुर जंगल में शिकारियों के घुसने की सूचना मिली थी। इस पर सरिस्का की 6 रेंजों की टीम ने रात 4 बजे तक जंगल में नाकाबंदी कर शिकारियों की तलाश की, लेकिन वे नहीं मिले। ग्रामीणों की सूचना को गंभीरता से लेकर कार्रवाई की जा रही है।

[@ इस पुल पर पैदल जाओगे तो पकड लेगी पुलिस!]

[@ अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे]

यह भी पढ़े

Web Title-Information of poachers in Sariska, overnight search operation
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: information, poachers, sariska, overnight, search operation, alwar- news of alwar, rajasthan news, rajasthan hindi news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, breaking news of rajasthan, news of rajasthan, alwar news, alwar news in hindi, real time alwar city news, real time news, alwar news khas khabar, alwar news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved