• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

निगम में भ्रष्टाचार या अधिकारियों की अनदेखी

Corporation officials ignore corruption - Hisar News in Hindi

हिसार। नगर निगम के अधिकारी खजाने को भरने के प्रति कितने सक्रिय है। इसकी बानगी निगम पार्षदों ने प्रदेश के वित्त आयोग के सामने साफ तौर से रखा। पार्षदों ने अधिकारियों की निष्क्रियता को साफ तौर पर तो नहीं कहा। मगर निगम की आय के साधनों को बढ़ाने के तरीके बताकर निगम की आय बढ़ाने में अधिकारियों के निष्क्रिय होने की बात स्पष्ट कर दी। बैठक के दौरान अधिकारियों ने बताया कि पिछले वित्तीय वर्ष में 31 करोड़ की आय हुई थी। जिसमें 28.57 करोड़ रुपए उन्हांेने खर्च किए थे। साथ ही तीन करोड़ के सवाल पर उन्होंने कहा कि ये पैसे वेतन देने में खर्च हो गए। जिस पर आयोग ने निगम एसओ से आय और खर्च की सारी डिटेल और निगम संपत्तियों की जानकारी मांग ली। बैठक के दौरान निगम पार्षद महेन्द्र जुनेजा ने कहा कि उनके वार्ड में शहर के सबसे ज्यादा सेक्टर हैं और सेक्टर्स में सड़कों के हालात बहुत खराब हैं। इन सड़कों को दुरुस्त करवाने के लिए वे अनेक बार पत्र लिख चुके हैं। मगर काम नहीं हो रहा। इसी तरह पटेल नगर क्षेत्र में आरयूबी का निर्माण होना था। जो कि पेमेंट नहीं होने के कारण कुछ नहीं हो रहा। इस दौरान पार्षद राजपाल मांडू ने सेक्टर-27 और 28 के नजदीक प्रशासन की तरफ से फायर स्टेशन बनाने की मांग रखी। बैठक में डिप्टी मेयर भीम महाजन ने कहा कि निगम के पास अपना खजाना भरने के लिए अनेक संसाधन है। मगर प्रशासन इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। उन्होंने कहा कि शहर में खुलेआम जीवों को काटा जाता है और उस मीट को खुलेआम ही बेचा जाता है। यदि प्रशासन की तरफ से मीट मार्केट की अलग से व्यवस्था हो और खुलेआम जीवों को काटने वालों के खिलाफ प्रशासन सख्त होकर चालान काटे तो निगम के खजाने में पैसा बढ़ेगा। इसी तरह प्रशासन प्रॉपर्टी टैक्स के साथ-साथ ट्रेड टैक्स, यूजर टैक्स, निगम की खाली जमीन पर दुकानें बनाने, वर्तमान की दुकानों के ऊपर भी अन्य दुकान बनाकर उन्हें किराये पर देने, मोबाइल टॉवर लगाने और इसकी फीस लेने के साथ पशुपालकों की ओर से पशुओं को आवारा छोडने वालों के चालान करने सहित आय बढ़ाने के कई तरीके सामने रखे।

एक ऐसा मंदिर जहां दीपक की लौ से बनती है केसर

यह भी पढ़े

Web Title-Corporation officials ignore corruption
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: hisar, news, haryana, corporation, officials, ignore, corruption, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, hisar news in hindi
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हरियाणा से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2024 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved