• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

40 दिन रंग और गुलाल में रंगी रहती है कान्हा की नगरी

मथुरा बृज में जैसे-जैसे होली नजदीक आती है वैसे ही मथुरा में गुलाल बनाए जाने का कार्य शुरू हो जाता है। कहीं प्राकृतिक गुलाल से होली खेली जाती है तो कहीं प्राकृतिक रंग से होली खेली जाती है। होली के इन 40 दिनों में कई टन गुलाल और रंग यहां आने वाले श्रद्धालुओं के ऊपर बरसाया जाता है। जिससे श्रद्धालु होली की मस्ती में रंग जाता है।

इस तरह बनाए जाते हैं विशेष रंग
बृज की होली शुरू होते ही मथुरा की फैक्ट्रियों में भी रंग और गुलाल बनना शुरू हो गया है। हर तरह के गुलाल को बनाया जा रहा है। जब हमने गुलाल बनाने के बारे में जानना चाहा तो लोगों ने बताया कि हम इस गुलाल को बनाने के लिए इसमें फिटकरी डालते हैं, साथ ही सेलखड़ी नाम का पाउडर भी इसमें डाला जाता है ताकि लोगों की त्वचा को कोई भी नुकसान न पहुंचे। सारी चीजों को ध्यान में रखकर हम लोग इस गुलाल को बनाते हैं।

देश विदेश से होली मनाने आते हैं श्रद्धालु
मथुरा में बृज की होली की बात ही सबसे निराली है। ब्रज में जो भी श्रद्धालु आता है वो होली के रंग में ही रंग जाता है। मथुरा की होली को देखने और मानाने लिए देश और विदेश से लोग यहां आते हैं। श्रद्धालु कान्हा की नगरी में होली का आनन्द उठाते हैं।

[# यूपी चुनाव: क्या इस बार कोई गुल खिलाएंगे चुनाव पूर्व हुए गठबंधन?]

[# अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे]

यह भी पढ़े

Web Title-brij painted in Holi colors 40 days
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: brij, painted, holi, colors, 40, days, hindi, samachar, khabar, religion, hindu, krishna nagari, gulal, , hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, mathura news, mathura news in hindi, real time mathura city news, real time news, mathura news khas khabar, mathura news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved