• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

भाजपा ने राज्य सरकार के खिलाफ राज्यपाल को सौंपा आरोप पत्र, भ्रष्टाचार के आरोपों से दो मंत्री किए बरी

BJP state government handed over the charge sheet against the Governor, two ministers acquitted of corruption charges - Shimla News in Hindi

शिमला। वीरभद्र सरकार के चार साल पूरा होने के अवसर पर धर्मशाला में मनाए जा रहे जश्न में कड़वाहट भरते हुए भाजपा ने आज हिमाचल की कांग्रेस सरकार पर भ्रष्टाचार के 41 आरोप लगाते हुए अपनी चार्जशीट की केंद्रीय जांच एजेंसियों से जांच की मांग के साथ राज्यपाल को सौंप दिया। पूर्व मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सत्ती के नेतृत्व में पूरे लाव लश्कर के साथ राजभवन में दी गई इस चार्जशीट में मुख्यमंत्री समेत 9 काबीना मंत्रियों, 6 मुख्य संसदीय सचिवों, बोड़ों-निगमों के अध्यक्षों पर भ्रष्टाचार के संगीन आरोप लगाए हैं। इसके अलावा सरकारी विश्वविद्यालयों, प्रदेश विधानसभा सचिवालय, कर्मचारी चयन आयोग और लोक सेवा आयोग व पुलिस बल में भर्तियों में कथित धांधलियों का जिक्र भी चार्जशीट में किया गया है।
पार्टी ने चार्जशीट की केंद्रीय एजेंसियों से जांच करवाने का आग्रह राज्यपाल से किया है। राजभवन में इस मौके पर केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा सहित प्रदेश भाजपा के अन्य बड़े नेता, पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे। 74 पृष्ठों वाली भाजपा की चार्जशीट पर पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सतपाल सत्ती के अलावा चार्जशीट कमेटी के सदस्यों सुरेश भारद्वाज, रविंद्र रवि, जयराम ठाकुर, महेंद्र सिंह, राजीव बिंदल, रणधीर शर्मा और विपिन सिंह परमार के दस्तखत भी हैं। चार्जशीट की शुरुआत मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर लगाए गए आरोपों से की गई है। इन आरोपों में मुख्यमंत्री के आय से अधिक संपति से लेकर उनके निजी आवास को को हाइडोपावर कंपनी को किराए पर देने, निजी आवास के पास गैस्ट हाउस के निर्माण के लिए हरे पेड़ को काटने की अनुमति प्रदान करना, मुख्यमंत्री के निजी सुरक्षा अधिकारी को दिए गए सरकारी लाभ व ब्रेकल कार्पोरेशन को लगाया गया जुर्माना माफ करने सहित सड़कों के रखरखाव और भवनों के निर्माण में कथित भ्रष्टाचार का हवाला दिया गया है।
ठियोग-हाटकोटी सड़क का निर्माण करने वाली सी एण्ड सी कंपनी को लाभ पहुंचाने के लिए करोड़ों का घपला करने का आरोप भी चार्जशीट का हिस्सा है। इसके अलावा रोहड़ू, चौपाल, रामपुर मण्डलों में बर्फ हटाने के नाम पर चहेते कांग्रेसी ठेकेदारों को करोड़ों का फायदा पहुंचाया गया। चार्जशीट में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू के साथ-साथ 9 मंत्रियों को लपेटा गया है। दिलचस्प यह है कि सामाजिक एवं अधिकारिता मंत्री धनी राम शांडिल और आयुर्वेद मंत्री कर्ण सिंह पर कोई आरोप नहीं लगा है। इसी तरह कांग्रेस विधायकों में केवल बिलासपुर के विधायक बंबर सिंह को लपेटा गया है। चार्जशीट में प्रदेश में माफिया राज का बोलबाला होने का आरोप लगाते हुए वन माफिया, खनन माफिया, ड्रग माफिया, शराब माफिया और भू-माफिया के सक्रिय होने की बात भी कही गई है।
वीरभद्र सरकार को घोटालों की सरकार की संज्ञा दी गई है। जिन घोटालों का मुख्यतः जिक्र किया गया है उनमें सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग के टेंडर घोटाले, स्वास्थ्य विभाग में आशा वर्कर और टैस्ट लैब घोटाला, ऑक्सीजन गैस सिलैण्डर सप्लाई घोटाला, घटिया दवाई घोटाला, परिवहन विभाग में बस खरीद घोटाला, टायर घोटाला, बैट लीजिंग घोटाला, कंडक्टर भर्ती घोटाला, फ्री बस पास, बस अडडे निर्माण घोटाला, कौशल विकास योजना घोटाला और एचआरटीसी में डीजल घोटाला, स्कूल वर्दी घोटाला, दाल घोटाला, उर्जा विभाग में एलईडी घोटाला, बिजली मीटर घोटाला, कृषि विभा में नकली बीज आबंटन घोटाला, वन विभाग में फर्जी बृक्षारोपण घोटाला, पोल घोटाला, मिड हिमालयन प्रोजेक्ट घोटाला, मतस्य विभाग घोटाला, उद्योग विभाग में खनन घोटाला आदि शामिल हैं।
चार्जशीट में पीसीसी चीफ सुखविंद्र सिंह सुक्खू पर उनके गृह हल्के नादौन की मान और कुणाह खडड में अवैध खनन माफिया को संरक्षण देने का आरोप लगाया गया है। साथ ही व्यास नदी किनारे सुक्खू द्वारा खरीदी गई भूमि करवाने की मांग की गई है। मुख्य संसदीय सचिवों विनय कुमार, इंद्र दत लखनपाल, नंद लाल, सोहन लाल, नीरज भारती और रोहित ठाकुर पर भी भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप चार्जशीट में जड़े गए हैं। इसके अलावा सरकारी बैंक के अध्यक्ष हर्ष महाजन और कांगड़ा केंद्रीय सहाकारी बैंक के अध्यक्ष जगदीश सिपहिया पर बैंक भर्ती में अनियमिताएं व हेरा-फेरी बरतने का आरोप लगा है।
वित्त निगम के अध्यक्ष कुलदीप कुमार पर अवैध कब्जे, वन निगम के अध्यक्ष केवल सिंह पठानिया पर विदेशी दौरों में फिजूलखर्ची, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया पर बोर्ड में नियमों को ताक पर रखकर चहेतों को नोकरी देने का संगीन आरोप लगाया गया है। चार्जशीट में 20 सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के अध्यक्ष व वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष ख्वाजा खलीलुल्ला भी भाजपा के निशाने पर हैं। चार्जशीट में भाजपा ने मुख्यमंत्री की पत्नी प्रतिभा सिंह व बेटे विक्रमादित्य सिंह के पास धनराशि तथा उनके फार्मा हाउस का भी जिक्र किया है। बिलासपुर के विधायक बंबर ठाकुर पर गुण्डागर्दी फैलाने का आरोप जड़ा गया है।[@ छेड़छाड़ का विरोध करने पर महिला को सरेआम पीटा, वीडियो वायरल]

यह भी पढ़े

Web Title-BJP state government handed over the charge sheet against the Governor, two ministers acquitted of corruption charges
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: government handed, charge sheet, against, governor, shimla news, himachal news, , hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, shimla news in hindi, real time shimla city news, real time news, shimla news khas khabar, shimla news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हिमाचल प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved