• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

वेब सीरीज समीक्षा: ताजा खबर, भुवन को छोड़ किसी और को तवज्जो नहीं देता कैमरा

Web Series Review: Taaja Khabar, Camera does not pay attention to anyone except Bhuvan - Movie Review in Hindi

—राजेश कुमार भगताणी

हाल ही में हॉट स्टार पर प्रदर्शित हुई वेब सीरीज ताजा खबर देखने का मौका मिला। यूट्यूबर भुवन बाम द्वारा निर्मित और अभिनीत ताजा खबर के नाम से लगा था कि यह कोई मीडिया आधारित वेब सीरीज होगी जिसमें कई प्रकार के राजनीतिक उथल पुथल वाले दृश्यों को रोमांचकारी अंदाज में फिल्माया गया होगा। जिसे देखते हुए मुँह से वाह निकलेगा लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। भुवन बाम की ताजा खबर बस नाम से ताजा है वरना इसमें वो सभी फार्मूले मौजूद हैं जो हिन्दी व दक्षिण भाषी फिल्मों में होते हैं। एक गरीब नायक, नायिका, एक खलनायक और फिर नायक का गलत रास्ते पर चलते हुए अरबपति बनना और दुनिया से कूच करना।

जो दर्शक यूट्यूबर भुवन बाम के हार्ड कोर प्रशंसक हैं उन्हें जरूर भुवन बाम की यह सीरीज पसन्द आ सकती है वरना आम दर्शक इस सीरीज के पहले एपिसोड को देखने के बाद ही तुरन्त ही पूरी कहानी को जेहन में उतार कर इसे देखना बन्द कर देगा।

यह छह-एपिसोड की सीरीज है, जो वसंत (भुवन) के रोलरकोस्टर जीवन के इर्द-गिर्द घूमती है। चाल में रहने वाला एक लडक़ा एक ऐसे सफर पर निकलता है जो उसे अपराध के दलदल में धकेल देता है। वसंत एक सार्वजनिक शौचालय में कर्मचारी हैं, जो हर वक्त वहाँ सोते हुए अमीर बनने के सपने को देखा करता है। इसी शौचालय के बदौलत उसे एक ऐसा वरदान मिलता है जिससे वह भविष्य में घटित होने वाली घटनाओं की जानकारी पहले से ही प्राप्त कर लेता है। इन घटनाओं के जरिये ईमानदारी से पैसा नहीं कमा पाने के चलते वह इसका गलत इस्तेमाल करते हुए अरबपति बन जाता है। इस दौरान वह क्या हासिल करता है और क्या खोता है, यह ताजा खबर का सार है।

छह-एपिसोड के इस शो की स्पष्ट दृष्टि है और यह बिना भटकाव के काम करता है। यह दलितों की एक संबंधित दुनिया बनाता है। भुवन ने इस वेब सीरीज में अमीरी-गरीबी के अन्तर को दिखाने का पूरा प्रयास किया है लेकिन यह उतना प्रभावी नहीं बन पाया है, जितना इसके बनने की उम्मीद थी। विशेष रूप से भुवन बाम के पिता के किरदार को जिस तरह से नजरअंदाज किया गया है वह अखरता है। इस किरदार को और विस्तारित करते हुए दिखाया जा सकता था। इसी तरह से शिल्पा शुक्ला के किरदार के साथ भी पूरा न्याय नहीं किया गया है। पूरे वक्त भुवन बाम ने कैमरा अपने ऊपर रखवाया है, जिसके चलते वह दर्शकों में ऊब पैदा करते हैं।

इनके अतिरिक्त इस सीरीज में मधु के रूप में श्रिया पिलगाँवकर भी हैं जो सैक्स वर्कर की भूमिका निभाने के साथ ही भुवन की प्रेमिका की भूमिका को साकार किया है। पूरी सीरीज में वे कहीं से भी सैक्स वर्कर नहीं लगती हैं। अरबपति प्रेमिका के रूप में भी वे कोई छाप नहीं छोड़ पाती हैं। महबूब भाई के रूप में देवेन भोजानी जरूर कुछ प्रभावित करते हैं। सीरीज में सबसे असरदार काम पीटर के रूप में प्रथमेश परब का रहा है। उन्होंने अपने हिस्से में आए सभी दृश्यों में अपनी एक छाप छोडऩे में सफलता पाई है।

ताजा खबर नाम से ही ताजा दिखती है वरना कथानक, फिल्मांकन से यह पूरी तरह से बाची व अन्य फिल्मों की नकल नजर आती है। भुवन बाम पर कैमरा फोकस रहने के कारण इस सीरीज के दूसरे सितारे कहीं भी अपनी छाप नहीं छोड़ पाते हैं। जेडी चक्रवर्ती को पूरी तरह से बरबाद किया गया है। एक सशक्त अभिनेता के तौर पर अपनी पहचान रखने वाले चक्रवर्ती ने क्यों इस भूमिका को स्वीकार किया यह समझ से परे है। दर्शकों के जेहन में आज तक चक्रवर्ती रामगोपाल वर्मा की फिल्म सत्या के चलते छाए हुए हैं।

ताजा खबर वेब सीरीज का निर्देशन हिमांक गौर ने किया है। वेब सीरीज एक संदेश जरूर देती है कि बिना मेहनत के कमाए पैसे और ताकत के अपने दुष्परिणाम होते हैं। इसमें बॉलीवुड की पुरानी चीजें हैं, जिसके चलते यह सीरीज का नया मॉडल नहीं अपना पाता। यही इसकी सबसे बड़ी खामी भी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Web Series Review: Taaja Khabar, Camera does not pay attention to anyone except Bhuvan
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: web series review taaja khabar, camera does not pay attention to anyone except bhuvan, bollywood movie reviews, hindi movie reviews, latest bollywood movie reviews, latest movie reviews
Khaskhabar.com Facebook Page:

गॉसिप्स

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2023 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved