• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

चीन ने फिर दी धमकी, भारत को सबक सिखाने का समय, 1962 से बुरा होगा हाल

बीजिंग। सिक्किम बॉर्डर को लेकर भारत और चीन के बीच तनाव गहराता ही जा रहा है। चीन ने साफ शब्दों में कह दिया है कि अब समझौते की गुंजाइश नहीं है और भारत को सबक सिखाने की धमकी दी है। इसी बची चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने एक बार फिर जहर उगला है और भारत को कड़ा सबक सिखाने की बात कही है। ग्लोबल टाइम्स के संपादकीय में लिखा गया है कि इस बार भारत का 1962 से भी ज्यादा बुरा हाल करने का समय आ गया है।

आपको बता दें कि रक्षा मंत्री अरुण जेटली के बयान के बाद चीनी अखबार की इतनी तीखी टिप्पणी सामने आई है। दरअसल, सिक्किम सेक्टर पर तनाव के बाद चीन ने भारत को 1962 की हार की याद दिलाई थी, जिसके जवाब में रक्षा मंत्री जेटली ने कहा था कि 1962 से अब के हालात अलग हैं। भारत को 1962 का देश समझने की भूल नहीं करनी चाहिए। 1962 के भारत और 2017 के भारत में अंतर है। इससे पहले सेना प्रमुख बिपिन रावत ने कहा था कि भारत चीन और पाकिस्तान के साथ एक साथ युद्ध लडऩे को तैयार है।

इन बयानों से बौखलाए चीनी अखबार की यह कड़ी प्रतिक्रिया दी है। चीनी अखबार ने कहा कि अगर भारत यह सोचता है कि वह डोंगलांग इलाके में सेना का इस्तेमाल कर सकता है और चीन एवं पाकिस्तान के खिलाफ एक साथ युद्ध के लिए तैयार है, तो हमें भारत को यह बताना होगा कि वह चीनी सेना की ताकत को हल्के में ले रहा है। ग्लोबल टाइम्स ने अपने संपादकीय में लिखा कि जेटली ठीक कह रहे हैं कि 1962 और 2017 के भारत में काफी अंतर है, लेकिन अगर जंग हुई, तो भारत को ज्यादा नुकसान उठाना होगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Time to teach India bitter lesson greater than 1962, says China editorial
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: china, india, sikkim border standoff, doklam standoff, india-china border standoff, arun jaitley, general bipin rawat, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved