• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

जी-20 समिट: पीएम मोदी ने बताया आतंकवाद को खत्म करने का तरीका

हैम्बर्ग। विश्व की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के नेताओं का जी-20 शिखर सम्मेलन शुक्रवार को जर्मनी के शहर हैम्बर्ग में शुरू हुआ। सम्मेलन की पहली बैठक अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद पर केंद्रित रही। सम्मेलन की मेजबानी कर रहीं जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने दूसरे देशों के प्रमुखों व सरकारों का उत्तरी बंदरगाह शहर में कड़ी सुरक्षा के बीच स्वागत किया। जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद को सबसे गंभीर मुद्दों में से एक बताया। साथ ही पीएम मोदी ने इशारों ही इशारों में पाकिस्तान पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कई देशों द्वारा आतंकवादियों को राजनीतिक उद्देश्य की पूर्ति के लिए प्रयोग किया जाता है। रेस्पॉन्स की दृष्टि से देशों का नेटवर्क कम है, लेकिन आतंकी ज्यादा नेटवर्क से जुड़े हैं।

मोदी ने जी-20 सम्मेलन में कहा कि आतंकवाद सबसे बड़ी चुनौती है और आतंक के खिलाफ कार्रवाई से पहले इसे समझना होगा। मोदी ने कहा, मिडल ईस्ट में दाएश, अल-कायदा, दक्षिण एशिया में लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद, हक्कानी नेटवर्क और नाइजीरिया में बोको हरम आज के आतंकवाद के कुछ नाम हैं, लेकिन इनकी मूलभूत विचारधारा सिर्फ नफरत और नरसंहार है। पीएम ने कहा कि आतंकी साइबर स्पेस का इस्तेमाल आज की युवा पीढ़ी को भ्रमित करने और अपने संगठनों में उनकी भर्ती के लिए कर रहे हैं।


पीएम मोदी ने आतंक के खिलाफ प्लान ऑफ ऐक्शन का स्वागत किया और इसके लिए 10 सूत्रीय ऐक्शन अजेंडा प्रस्तुत किया।

1. आतंकवाद का समर्थन करने वाले देशों के खिलाफ निवारक कार्रवाई अनिवार्य है। ऐसे देशों के अधिकारियों का जी-20 सम्मेलन में प्रवेश पर प्रतिबंध जरूरी।
2. संदिग्ध आतंकवादियों की सूची का जी-20 देशों के बीच लेन-देन और नामांकित आतंकवादियों और उनके समर्थनकों के खिलाफ साझी कार्रवाई अनिवार्य
3. आतंकवादियों से संबंधित प्रभावकारी सहयोग के लिए कानूनी प्रक्रिया जैसे कि प्रत्यर्पण को सरल और ज्यादा तेज गति का बनाना
4. अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद पर व्यापक सम्मेलन को शीघ्र अपनाया जाना।
5. यूनाइटेड नेशन सिक्यॉरिटी काउंसिल रेजॉल्यूशन तथा अन्य अंतरराष्ट्रीय प्रक्रियाओं को प्रभावी ढंग से लागू करना।
6. कट्टरता के खिलाफ कार्यक्रमों पर जी-20 द्वारा साझा प्रयास और सबसे अच्छी प्रयासों का लेन-देन।
7. एफएटीएफ तथा अन्य प्रक्रियाओं द्वारा आतंकियों को वित्तीय मदद वाले सोर्स और माध्यमों पर प्रभावशाली प्रतिबंध।
8. एफएटीएफ की तरह ही हथियारों पर रोक के लिए वेपंज़ ऐंड एक्प्लोसिव ऐक्शन टास्क फोर्स का गठन, ताकि आतंकवादियों तक पहुंचने वाले हथियारों के स्रोतों को बंद किया जा सके।
9. जी-20 देशों के बीच आतंकवादी गतिविधियों पर केंद्रित साइबर सिक्यॉरिटी क्षेत्र में ठोस सहयोग।
10. जी-20 में नेशनल सिक्यॉरिटी अडवाइजर ऑन काउंटर टेररिजम के एक तंत्र का गठन।

जर्मन जांसलर कर रही है शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-G20 Summit:PM Modi spells out plan of action on agenda of counter terrorism
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: g20 summit, hamburg, prime minister, narendra modi, terrorism, global economy, g20 nations, brics leaders, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved