• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

कतर से 4 अरब देशों ने तोड़े रिश्ते, भारत पर ऎसा रहेगा असर

रियाद। सऊदी अरब, बहरीन, मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने कतर के साथ सभी तरह के कूटनीतिक रिश्ते खत्म करने का ऐलान कर दिया है। इन देशों ने कतर के साथ डिप्लोमैटिक रिश्तों के साथ जमीन, समुद्र और हवाई रिश्ते भी खत्म कर दिए हैं। इन देशों ने कतर पर आतंकी और चरमपंथी संगठनों को समर्थन देने का आरोप लगाते हुए कतर के खिलाफ यह कदम उठाया है।
सऊदी अरब ने अपने फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि सऊदी को आतंकवाद और कट्टरपंथ से बचाने के लिए यह कदम उठाना जरूरी था। सऊदी ने कहा कि देश के साम्राज्य को बचाने ेक लिए यह कदम उठाया गया है। बाहरीन ने कतर के साथ रिश्ते तोडऩे के अपने फैसले की जानकारी सोमवार को दी। बहरीन ने कहा कि वह कतर की राजधानी दोहा से 48 घंटे के अंदर अपने राजनयिक मिशन को वापस बुला रहा है और इसी अवधि में कतर के सभी राजनयिकों को बहरीन छोड़ देना चाहिए। आतंकवाद को बढ़ावा देने के अलावा बाहरीन ने कतर पर अपने आंतरिक मामलों में दखलंदाजी करने का भी आरोप लगाया है। मालूम हो कि बाहरीन सऊदी अरब का करीबी सहयोगी है।
मिस्र ने भी कतर के साथ हवाई रिश्ते और सभी बंदरगाह बंद करने का ऐलान किया है। मिस्र ने राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर यह फैसला लेने का दावा किया।
इन चारों देशों ने कतर के साथ न केवल अपने कूटनीतिक और राजनयिक संबंध तोड़ लिए हैं, बल्कि हवाई व समुद्री संपर्क तोडऩे का भी ऐलान किया है। सऊदी अरब ने अपने फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि सऊदी को आतंकवाद और कट्टरपंथ से बचाने के लिए यह कदम उठाना जरूरी हो गया था। सऊदी की आधिकारिक न्यूज एजेंसी ने एक आधिकारिक सूत्र के हवाले से बताया कि वह राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर ऐसा कर रहा है। सऊदी ने सभी मित्र राष्ट्रों और कंपनियों से भी अपील की है कि वे भी कतर के साथ सभी तरह के संपर्क तोड़ दें।
यूएई ने भी कतर के साथ सभी तरह के संबंध तोडऩे की घोषणा की है। मिस्र ने जहां कतर पर आतंकवादी संगठनों को समर्थन देने का आरोप लगाया, वहीं यूएई का कहना है कि कतर पूरे पश्चिम एशिया क्षेत्र की सुरक्षा को अस्थिर करने की कोशिश कर रहा है। बहरीन ने अपने यहां रह रहे कतर के नागरिकों को देश छोडक़र जाने के लिए 14 दिनों की मोहलत दी है, जबकि कतर के राजनयिकों को 48 घंटे के अंदर बहरीन छोडऩे को कहा गया है।
मुस्लिम ब्रदरहुड और आईएसआईएस को समर्थन का आरोप

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Four Arab countries cut all links with Qatar over support to terrorism
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: uae, qatar, 4 countries cut links with qatar, terrorism support allegation on qatar, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved