• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

दुबई वेयरहाउस हादसे के पीड़ित केरल हाईकोर्ट की शरण में

Dubai warehouse accident victims in the shelter of Kerala High Court - World News in Hindi

दुबई| दुबई के वेयरहाउस में आग लगने के हादसे में अपने कीमती सामान गंवाने वाले भारतीय प्रवासियों ने केरल हाई कोर्ट में याचिका दायर की है। इन्होंने मांग की है उन्हें अपना बकाया पैसा लेने के लिए कानूनी सहायता दी जाए। गल्फ न्यूज के मुताबिक, याचिकाकर्ताओं ने दावा किया है कि यूएई की इस कार्गो फर्म को उन्होंने हजारों दिरहम के कीमती सामान केरल भेजने के लिए दिए थे, जो कि आग लगने से नष्ट हो गए। इनमें से कई लोग ऐसे हैं, जिन्होंने कोविड महामारी के दौरान अपनी नौकरी खो दी थी और उन्हें अपने परिवारों को वापस घर भेजना पड़ा।

केरल हाई कोर्ट के वकील जोस अब्राहम ने गल्फ न्यूज को बताया, "यह याचिका केरल हाई कोर्ट में इसलिए दायर की गई है क्योंकि ज्यादातर पीड़ित केरल के हैं। वे यूएई जाकर अपना केस लड़ने की स्थिति में नहीं हैं।"

इस मामले में केरल हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस भेजकर यूएई में भारत के दूतावास को निर्देश देने के लिए कहा है कि वे वहां पर पीड़ितों को मदद करे ताकि वे अपना मुआवजा प्राप्त कर सकें। ये नोटिस जस्टिस पी.वी. आशा की अध्यक्षता वाली पीठ ने जारी किया है। इसमें संबंधित अधिकारियों से याचिकाकर्ताओं की शिकायतों पर विचार करने और मुआवजे के लिए कानूनी कार्रवाई शुरू करने के लिए मुफ्त कानूनी सहायता देने के लिए कहा गया है।

याचिका के अनुसार याचिकाकर्ताओं ने दावा किया है कि महामारी के कारण उन्होंने अपनी नौकरी खो दी थी और फिर अपना सामान घर भेजने के लिए उन्होंने कार्गो कंपनी को हजारों दिरहम का भुगतान किया लेकिन उनके घर पहुंचने के बाद भी उनका सामान नहीं पहुंचा। यह कीमती सामान उन्होंने कई सालों की कड़ी मेहनत से इकट्ठा किया था। याचिकाकर्ताओं ने अपनी बात को एनओआरकेए (गैर-निवासी केरलवासियों के मामलों की देखरेख करने वाली संस्था) के प्रमुख सचिव तक पहुंचाया, जिन्होंने इसे अबु धाबी में भारतीय दूतावास तक पहुंचाया।

पिछले साल मार्च में अपनी नौकरी खोने वाले जॉर्ज जोसेफ ने अपना सामान भेजने के लिए कंपनी को 5,700 दिरहम का भुगतान किया था। वहीं दुबई में बतौर टेकि्न कल इंजीनियर काम करने वाले रामदास परुवायाकोड ने अपने परिवार के लिए हजारों दिरहम खर्च कर नया फ्रिज, वॉशिंग मशीन और कई चीजें भेजी थीं, जो कि गोदाम में जल गए। इसके अलावा कंपनी को भी उन्होंने शिपिंग के लिए हजारों दिरहम भी चुकाए थे।

आग में ढेर सारा कीमती फर्नीचर और म्यूजिक सिस्टम गंवाने वाली 43 वर्षीय रोजी कुरियन कहती हैं, "हमें हजारों दिरहम का नुकसान हुआ है, हमें मुआवजा मिलना ही चाहिए।" वहीं पिछले 22 वर्षों से दुबई में फ्रीलांस आईटी कंसल्टेंट्स के तौर पर काम करने वाले मंगेश प्रसाद चाफोलकर कहते हैं, "मैंने टीवी कैबिनेट, बेड, किचन का ढेर सारा सामान, मेरे बच्चों के सर्टिफिकेट्स, ट्राफियां भेजी थीं। इतना ही नहीं इसमें हमारी फैमिली की तस्वीरें, वीडियो और कई एंटीक्स भी शामिल थे। सामान जलने से हमारी जिंदगी उलट-पलट हो गई है। मुझे कुछ अच्छा होने की उम्मीद है। "

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Dubai warehouse accident victims in the shelter of Kerala High Court
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: dubai, warehouse, accident, victims, shelter, kerala, high court, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved