• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

ब्रेक्सिट समझौते की आलोचना करने वाले लोकतंत्र को खतरे मेंं डाल रहे : थेरेसा मे

लंदन। ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने सांसदों से उनके ब्रेक्सिट समझौते का समर्थन करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि यह जनमत संग्रह परिणाम का सम्मान करने और अर्थव्यवस्था की रक्षा करने का एकमात्र तरीका है। बीबीसी ने बताया कि रविवार को मेल में लिखकर मे ने कहा कि अगर उनके आलोचक उनकी योजना का विरोध करते हैं, तो इससे लोकतंत्र को नुकसान पहुंचेगा।

सांसदों को अगले सप्ताह इस मसले पर वोट करना है कि ब्रेक्सिट योजना का समर्थन करें या नहीं। ब्रिटेन 29 मार्च को यूरोपीय संघ (ईयू) से अलग होने वाला है, चाहे यूरोपीय संघ के साथ कोई समझौता हो या न हो।

मे ने कहा, ‘‘जनमत संग्रह के परिणाम का सम्मान करने और नौकरियों और सुरक्षा की रक्षा करने का एकमात्र तरीका यही है कि समझौते का समर्थन किया जाए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘किसी और के पास कोई वैकल्पिक योजना नहीं है’’ जो यूरोपीय संघ के जनमत संग्रह के परिणाम पर आधारित हो, नौकरियों की सुरक्षा करती हो और व्यवसायों को निश्चिंतता प्रदान करती है।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-British Prime Minister Theresa May could delay final Brexit vote for a second time
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: british prime minister theresa may, theresa may, brexit vote, थेरेसा मे, ब्रिटिश प्रधानमंत्री, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved