• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

अमेरिका भारत से अपने संबंधों को इस रूप में नहीं देखता जहां वह अल्टीमेटम दे

America does not view its relations with India as giving ultimatum - World News in Hindi

न्यूयॉर्क। विदेश विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार "अमेरिका भारत के साथ अपने संबंधों को इस रूप में नहीं देखता जहां वह अल्टीमेटम दे सकता है। उन्होंने जिक्र किया कि कि भारत एक लोकतंत्र है जहां नीतियां एक नियत प्रक्रिया से गुजरती हैं।"

एक रिपोर्टर द्वारा यह पूछे जाने पर कि क्या अमेरिका ने कश्मीर में सामान्य हालात बहाल करने पर भारत से भरोसे की मांग की है या अल्टीमेटम दिया, इस पर अधिकारी ने कहा "यह एक ऐसा संबंध नहीं है जहां हम अल्टीमेटम से डील करे। फिर भी मेरा मानना है कि यह एक देश हैं, जहां लोकतंत्र है, जहां इन नीतियों पर वोट किया जाता है, उन पर चर्चा होती है और न्यायपालिका उनकी समीक्षा करती है और इसलिए मैं उस टर्मिनोलॉजी (शब्दावली) का इस्तेमाल नहीं करूंगा। हम मान्यता देते हैं और स्पष्ट रूप से सराहना करते हैं कि भारत एक जीवंत लोकतंत्र है, जैसे हम हैं।"

अधिकारी ने बुधवार व गुरुवार को मीडिया ब्रीफिंग आयोजित की। यह मीडिया ब्रीफिंग भारत के विदेश मंत्री एस.जयशंकर व रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह व अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो व रक्षा मंत्री मार्क इस्पर के साथ हुई 2 प्लस 2 रणनीतिक संवाद के बाद हुई।

अमेरिका कश्मीर में हिरासत में लिए गए लोगों की रिहाई और सामान्य आर्थिक गतिविधि व संचार बहाली का स्वागत करेगा। अल्टीमेटम के जैसा व्यवहार नहीं करने का आधिकारिक बयान अमेरिका के भारत को मान्यता देने के एक मजबूत विचार को प्रदर्शित करता है, जिसे लेकर अक्सर मीडिया और कुछ राय निर्माता विश्व की सबसे बड़े लोकतंत्र को लेकर अपनी रुढि़वादिता को दिखाते है।

यह पूछे जाने पर कि 2 प्लस 2 की बैठक के दौरान नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) पर चर्चा की गई। अधिकारी ने कहा "हम भारतीय लोगों के साथ नियमित बातचीत करते हैं, जिसमें मानवाधिकारों और धार्मिक स्वतंत्रता को प्रभावित करने वाले मुद्दों के साथ दूसरे मुद्दे भी शामिल होते हैं।"

लेकिन अधिकारी ने कहा "सीएए पर हम सक्रिय राजनीतिक चर्चा और संसद में चर्चा, लोगों के प्रदर्शन, जो उस पर कानून का समर्थन कर रहे हैं और हम पूरी तरह से अवगत है कि वहां एक न्यायिक प्रक्रिया है, जो काम कर रही है।"

(आईएएनएस)

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-America does not view its relations with India as giving ultimatum
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: us india relations, us state department, foreign minister of india s jayashankar, india\s defense minister rajnath singh, us secretary of state mike ponpio, us defense minister mark isper, राजनाथ सिंह, मार्क इस्पर, माइक पोंपियो, एसजयशंकर \r\n, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved