• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

पाकिस्तान की जेलों में 537 भारतीय कैदी, इनमें से 360 कैदियों को रिहा करेगा PAK

537 Indian prisoners in pakistan prison, 360 of these prisoners will be relese - World News in Hindi

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने मानवीय आधार पर 360 भारतीय कैदियों को रिहा करने का फैसला लिया है। पाकिस्तान की जेल में बंद ये कैदी अपनी सजा काट चुके हैं। इन भारतीय कैदियों को अगले सोमवार से रिहा किया जाएगा। पाकिस्तान के विदेश विभाग के प्रवक्ता डॉ मोहम्मद फैसल ने कहा कि पाकिस्तान की जेलों में 537 भारतीय कैदी सजा काट रहे हैं। इसमें से 483 मछुआरे हैं।

इस्लामाबाद में मीडिया से बातचीत के दौरान पाकिस्तानी प्रवक्ता फैसल ने कहा कि अगले मंगलवार को 100 भारतीय मछुआरों को रिहा किया जाएगा। इसके बाद भारतीय मछुआरों के दूसरे बैच को 15 अप्रैल को छोड़ा जाएगा। फिर 22 अप्रैल को 100 और मछुआरों को रिहा किया जाएगा।

डॉ मोहम्मद फैसल ने कहा कि 5 मछुआरों समेत 60 भारतीय नागरिकों के आखिरी बैच को 29 अप्रैल को छोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि भारतीय जेलों 347 पाकिस्तानी कैदी बंद हैं, जिनमें से 98 पाकिस्तानी मछुआरे हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि अब भारत भी पाकिस्तानी कैदियों को सौहार्द के आधार पर रिहा करेगा।

पाकिस्तान ने भारतीय कैदियों को सौहार्द के आधार पर रिहा करने का फैसला उस समय लिया, जब लोकसभा के लिए चुनाव होने वाले हैं। इसके अलावा पाकिस्तानी प्रवक्ता ने भारत द्वारा करतारपुर कॉरिडोर को लेकर होने वाली बैठक को टालने पर खेद जताया। उन्होंने दावा किया कि इस तरह की बैठकों से भारत और पाकिस्तान शांति के रास्ते पर आगे बढ़ सकेंगे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-537 Indian prisoners in pakistan prison, 360 of these prisoners will be relese
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: pakistan 537 indian prisoners prison, 360 prisoners पाकिस्तान भारतीय कैदी पाकिस्तानी जेल कराची लाहौर भारतीय मछुआरे, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved