• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

वीडियोकॉन घोटाला : अमेरिकी एजेंसी के रेडार पर चंदा कोचर और ICICI बैंक

Videocon loan case: ICICI Bank, Chanda Kochhar under US SEC scanner - India News in Hindi

नई दिल्ली। आईसीआईसीआई बैंक की सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर चंदा कोचर की मुश्किलें और बढऩे वाली हैं। यही नहीं उनके साथ आईसीआईसीआई बैंक पर भी संकट के बादल मंडरा रहे है। दरअसल, चंदा कोचर और उनके परिवार पर लगे कथित अनियमितता के आरोपों की जांच भारत में चल रही है। वहीं, दूसरी ओर अमेरिकी मार्केट रेगुलेटर एसईसी (सिक्यॉरिटीज एंड एक्सचेंज कमिशन) भी इस मामले में पड़ताल कर रहा है। जल्द ही कोचर और आईसीआईसीआई बैंक को एसईसी जांच का सामना करना पड़ सकता है। हालांकि, एसईसी के एक अधिकारी से कोचर और आईसीआईसीआई से जुड़े मामले की जांच से जुड़ा सवाल पूछा गया तो अधिकारी ने कोई टिप्पणी करने से इनकार कर दिया।

भारत ने मांगी मॉरिशस से मदद...

चंदा कोचर और आईसीआईसीआई बैंक, के खिलाफ जांच कर रही भारतीय नियामक और जांच एजेंसियां ने मॉरीशस समेत दूसरे विदेशी समकक्षों से जांच में मदद मांगी हैं। बैंक पहले ही कथित ‘हितों के टकराव’ और ‘फायदा के बदले फायदा पहुंचाने’ के मामले की स्वतंत्र जांच करा रहा है। इससे पहले मार्च में जब पहली बार इस बारे में रिपोट्र्स सामने आई थीं तब बैंक ने कहा था कि उसके बोर्ड को कोचर में ‘पूर्ण विश्वास’ है।
एसईबीआई से मांगी जा सकती है जानकारी...
न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, सूत्रों का कहना है कि एसईसी (सिक्यॉरिटीज ऐंड एक्सचेंज कमिशन) पूरे मामले पर नजर रखे हुए है क्योंकि आईसीआईसीआई बैंक अमेरिकी बाजार में भी सूचीबद्ध है। एसईसी भारतीय बाजार नियामक एसईबीआई (सिक्यॉरिटीज ऐंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया) से इस बारे में और ज्यादा विवरण देने की गुजारिश कर सकता है। एसईबीआई पहले ही जांच के सिलसिले में आईसीआईसीआई बैंक और कोचर को शो-कॉज नोटिस जारी कर चुकी है।

सीबीआई कर रही है मामले की जांच...

चंदा कोचर और आईसीआईसीआई बैंक से जुड़े मामले को एसईबीआई के अलावा आरबीआई और कॉर्पोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री भी देख रहे हैं। सीबीआई ने मार्च में ही कोचर के पति दीपक कोचर के खिलाफ प्रारंभिक जांच (पीई) दर्ज कर लिया था और अप्रैल में कोचर के देवर राजीव कोचर से गहन पूछताछ भी की थी।

वीडियोकॉन ग्रुप के 3250 करोड़ के लोन का मामला...

सीबीआई जिन मामलों की जांच कर रही है उनमें वीडियोकॉन ग्रुप को 2012 में आईसीआईसीआई बैंक से 3,250 करोड़ रुपए के लोन का मामला भी शामिल है। यह लोन कुल 40 हजार करोड़ रुपए का एक हिस्सा था, जिसे वीडियोकॉन ग्रुप ने एसबीआई के नेतृत्व में 20 बैंकों से लिया था। वीडियोकॉन ग्रुप के चेयरमैन वेणुगोपाल धूत पर आरोप है कि उन्होंने 2010 में 64 करोड़ रुपए न्यूपावर रीन्यूएबल्स प्राइवेट लिमिटेड (एनआरपीएल) को दिए थे। इस कंपनी को धूत ने दीपक कोचर और दो अन्य रिश्तेदारों के साथ मिलकर खड़ा किया था।

चंदा कोचर और पति पर आरोप ये हैं आरोप...

ऐसे आरोप हैं कि चंदा कोचर के पति दीपक कोचर समेत उनके परिवार के सदस्यों को कर्ज पाने वालों की तरफ से वित्तीय फायदे पहुंचाए गए। आरोप है कि आईसीआईसीआई बैंक से लोन मिलने के 6 महीने बाद धूत ने कंपनी का स्वामित्व दीपक कोचर के एक ट्रस्ट को 9 लाख रुपए में ट्रांसफर कर दिया। ऐसे आरोप भी हैं कि न्यूपावर को मॉरीशस आधारित कंपनी फस्र्टलैंड होल्डिंग्स की तरफ से 325 करोड़ रुपए का निवेश हासिल हुआ था। फस्र्टलैंड होल्डिंग्स निशांत कानोडिया की कंपनी है जो एस्सार ग्रुप के सह-संस्थापक रवि रुईया के दामाद हैं। आईसीआईसीआई बैंक के बोर्ड ने विसल ब्लोअर अरविंद गुप्ता के नए आरोपों के बाद स्वतंत्र जांच का आदेश दिया है। विसल ब्लोअर ने एस्सार ग्रुप के रुइया ब्रदर्स पर भी बैंक से अनुचित फायदा उठाने का आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Videocon loan case: ICICI Bank, Chanda Kochhar under US SEC scanner
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: videocon loan case, icici bank, chanda kochhar, under us sec scanner, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved