• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

8 बॉल पूल में प्रो बनने के लिए 5 टॉप टिप्स

Top 5 TIPS to become a Pro in 8 Ball Pool - India News in Hindi

8 बॉल पूल ऐसा गेम है जो हमें ब्राउजर गेम्स के सुनहरे दौर में ले जाता है। मुझे याद है कि मैं मिनीक्लिप पर घंटो ये गेम्स खेलता था और वह दौर 8 बॉल पूल गेम की लोकप्रियता का चरम समय था और भले ही यह काफी सालों की बात हो गई है लेकिन 8 बॉल पूल की लोकप्रियता कम नहीं हुई है बल्कि बढ़ी ही है। यह टॉप पूल गेम है जो लगभग हर प्लेटफार्म पर उपलब्ध है और मुझे लगता है कि मोबाइल, पीसी और ब्राउजर पर इसकी उपलब्धता के कारण ही यह इतने लोगों तक पहुंच सका है।

कुछ समय पहले चीजें थोड़ी आसान होती थी। मेरा मतलब है कि कई शानदार खिलाड़ी हुआ करते थे, जिनकी स्किल्स शानदार थीं। वे बहुत उंचे दांव लगाते थे, लेकिन अब तकनीक के बढ़ते प्रयोग के कारण चीजें कुछ जटिल हो गई हैं। उंचे दांव लगाने वालों से प्रतिस्पर्धा करने के लिए आपको प्रो होना जरूरी है ताकि आप 8 बॉल पूल कॉइंस की कुछ ठीकठाक कमाई कर सकें। हालांकि अपनी स्किल्स को अच्छा बनाना आसान काम नहीं है। वैसे कुछ तरीके हैं जिनके जरिए आप कुछ ही समय में प्रो बन सकते हैं।

इस गाइड में मैंने 8 बॉल पूल गेम में प्रो बनने के लिए 10 टॉप टिप्स और ट्रिक्स बताए हैं। तो शुरू करें-
एक सही शुरूआत
इस विषय में सबसे अहम बात यह है कि आपकी शुरूआत सही होनी चाहिए और इससे मेरा मतलब यह है कि यदि आप टेबल का पहला शॉट ले पाते हैं तो आप वास्तव में भाग्यशाली हैं। पता है क्यों? क्योंकि आपको सभी बॉल्स को पॉट करने का मौका मिल जाता है और आपके प्रतिद्वंद्वी को टेबल पर आने तक का मौका नहीं मिलता। इसलिए सही शुरूआत मिलना बहुत अहम है। आप जितनी ज्यादा हो सके बॉल्स पॉट करें और फिर उस टाइप का चुनाव करेें जिसमें सबसे कम बॉल हों या बॉल बेहतर स्थान पर हो।
सही शॉट के लिए दो तरीके हैं-
1- त्रिकोण (शुरूआती फार्मेशन) में पहली बॉल के सेंटर में अपनी बॉल को पॉइंट करें और यह सुनिश्चित करें कि स्पिन फॉरवर्ड हो। इससे क्यू बॉल अन्य बॉल्स को दो बार हिट करेगी और ज्यादा बॉल्स को पॉट करने के अवसर बढेंगे।

2- दूसरा तरीका थोड़ा ट्रिकी है। आपको ट्राइंगल में पहली बॉल के पीछे दूसरी पंक्ति की बॉल को हिट करने के लिए सही एंगल लेना होगा और इसे सीधे हिट करना होगा, लेकिन इस बार यह काम बैकवर्ड स्पिन के साथ करना होगा। इसका परिणाम भी बहुत कुछ पहले जैसा ही होगा।
सोच समझ कर चुनें टाइप
अगला टिप पहले के साथ ही जुड़ा हुआ है और बहुत कुछ उसी पर निर्भर करता है। आपका पहला शॉट लेने के बाद आप देख सकते हैं कि वहां एक विशेष टाइप की कुछ ही बॉल बची हैं। आपको लग सकता है कि अच्छा है सॉलिड बॉल्स कम बची हैं, तो क्यों ना उन्हें ही चुन लिया जाए और इसका अर्थ भी है। लेकिन यदि सॉलिड बॉल्स आपके मनचाहे स्थानों पर नहीं मिलीं तो क्या होगा? इसलिए जब तक आप सुपर प्रो नहीं हो और आपको यह भरोसा नहीं हो आप उन्हें अजीब जगहों से नहीं निकाल सकते तब तक आपको यह विकल्प लेना चाहिए कि बॉल्स भले ही ज्यादा हों, लेकिन उन्हें पॉट आसानी से किया जा सके। इसलिए कोई विशेष टाइप चुनने से पहले आपको यह दोनों बातें ध्यान में रखनी होंगी।
अपने कॉइंस को बेकार मत कीजिए
हम में से कई लोग अपने कॉइंस खर्च करने में लापरवाही करते हैं, लेकिन आप इन्हें सही ढंग से इस्तेमाल करें तो अपने प्रतिद्वंद्वी से आगे बढ़ सकते हैं। इसके लिए आपको अपने कॉइंस बेहतर क्यू पर खर्च करने होंगे। ये क्यू आपको बेहतर एक्यूरेसी, ताकत, दीर्घ मार्गदर्शन और ऐसा लुक दे सकते हैं जो आपकी उम्मीद से बेहतर काम करे।
इसलिए यह सुनिश्चित कीजिए कि आप कॉइंस कम खर्च करें, बेहतर क्यू हासिल करने का प्रयास करें ताकि बेहतर शॉट्स मिल सकें और ज्यादा गेम जीत कर उन कॉइंस को वापस हासिल कर सकें।
ताकत और स्पिन को एक साथ रखिए
पिछले कुछ सालों में जो सबसे अच्छी चीज मैंने सीखी है, वह है कि ताकत और स्पिन को एक साथ रखा जाए। इससे आप कुछ असम्भव दिखने वाली स्थ्तिियों से बाहर आ सकते हैं और आपको अपनी अगली बॉल के लिए बेहतर स्थिति मिलने में मदद मिलती है। मान लीजिए कि आपकी बॉल पॉकेट के बिल्कुल पास है और आप बॉल को सिर्फ सीधे एंगल से हिट कर सकते हैं और इससे आपको अपनी खुद की बॉल पॉट करने के मामले मेें जोखिम भरी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है, ऐसे में यदि आपको यह अंदाजा नहीं है कि बॉल को पॉट करने के लिए कितनी ताकत की जरूरत है और आपको अपनी बॉल को भी अंदर जाने से बचाना है तो आप बैक स्पिन का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आप बॉल को पॉट कर पाएंगे और अपनी बॉल को भी अंदर जाने से बचा पाएंगे। यह ताकत और स्पिन के इस्तेमाल का सिर्फ एक तरीका है जबकि क्यू बॉल के लिए आठ अलग-अलग तरह के स्पिन्स हैं जो मुश्किल स्थितियों से बाहर निकलने में सहायता कर सकते हैं।

अपनी अगली दो चाल को दिमाग में रखिए
जब आप शॉट ले रहे हैं और खुद को एक आसान स्थिति में पा रहे हैं और आप के पास आसान शॉट है तो आप इसे तुरंत लीजिए। समय मत लगाइए और आसान शॉट लेते समय ही अगले दो शॉट्स के बारे में भी सोच लीजिए। अपने आप से यह सवाल पूछिए “यदि मैं यह शॉट ले रहा हूं तो मेरे पास क्या बॉल के लिए साफ शॉट रहेगा?“ इस शॉट में देरी कर इसे ज्यादा मुश्किल बनाया जाए तो क्या होगा, क्या मैं इसे बाद में ले सकूंगा?“ “ क्या मैं इस आसान शॉट से अपने अगले कठिन शॉट के लिए रास्ता साफ कर सकूंगा?“
एक बार खुद से यह सवाल पूछने के बाद आप ज्यादा बेहतर ढंग से निर्णय कर सकेंगे िकइस शॉट को अभी लिया जाए या फिर पहले दूसरी बॉल के साथ जाया जाए, या फिर आप इस शॉट का इस्तेमाल अपनी अगली बॉल का रास्ता साफ करने के लिए भी कर सकते हैं। थोडा धैर्य रखिए। यह कुछ टिप्स और ट्रिक्स हैं जिनके जरिए आप अपने 8 बॉल एकाउंट को अगले स्तर तक ले जा सकते हो और इस दौरान हो सकता है कि बहुत सारे कॉइन्स भी आप जीत जाओ।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Top 5 TIPS to become a Pro in 8 Ball Pool
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: ball pool, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved