• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

पहले भी आधी रात को लगा सुप्रीम कोर्ट, इन मामलों में हुई थी सुनवाई

supreme court hears bombay blast case in midnight in 2015 - India News in Hindi

नई दिल्ली। कर्नाटक में बीजेपी के मुख्यमंत्री के तौर पर बीएस येदियुरप्पा के शपथग्रहण को रोकने के लिए कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में बुधवार रात ही याचिका दाखिल की थी। सुप्रीम कोर्ट ने भी आननफानन में रात में ही मामले की सुनवाई करने का फैसला किया। इसके बाद रात भर चली सुनवाई के बाद शीर्ष अदालत ने येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। इससे पहले भी कुछ मामलों में सुप्रीम कोर्ट में रात में सुनवाई हुई थी।

मुंबई बम धमाकों के मामले में हुई थी सुनवाई...

ऐसा दूसरी बार हुआ जब आधी रात को सुप्रीम कोर्ट खोलकर सुनवाई की गई। जब देश सो रहा तब सुप्रीम कोर्ट में दलीलों का दौर जारी था। इससे पहले वर्ष 1993 के मुंबई सीरियल धमाके के दोषी याकूब मेमन मामले में भी सुप्रीम कोर्ट ने आधी रात को सुनवाई की थी। वह भारत की न्यायिक इतिहास में पहला मौका था जब सुप्रीम कोर्ट ने आधी रात को सुनवाई की थी।

तीन जजों ने सुनाया फैसला...
30 जुलाई, 2015 को आधी रात में यह सुनवाई हुई थी। कोर्ट नंबर चार में तीन जजों जस्टिस दीपक मिश्रा, अमिताव रॉय और जेपी पंत ने मामले पर फैसला सुनाया था। उस समय देश के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एचएल दत्तू थे। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा याकूब की दया याचिका खारिज किए जाने के बाद प्रशांत भूषण सहित कुछ वकीलों ने उसे बचाने के लिए देर यह दांव खेला था। हालांकि, कोर्ट ने रात में ही सुनवाई के बाद याचिका को खारिज कर दिया और आखिरकार याकूब को फांसी देने का रास्ता साफ हुआ था। 3.20 पर सुनवाई शुरू हुई थी और सुबह 4.57 पर अंतिम फैसला आया था।

एक और मामले में हुई थी रात में सुनवाई...
1989 में उद्योगपति ललित मोहन थापर के केस में भी रात में सुनवाई करने का फैसला लिया गया था। उस समय भारत के मुख्य न्यायाधीश रहे ईएस वेंकटरमैया ने अपने आवास पर ही मामले की सुनवाई की थी और थापर को बेल प्रदान की थी। मनीलाइफ में आईएएएनएस के हवाले से छपी खबर के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष एमएन कृष्णमणि और अन्य लोगों ने इस कदम का स्वागत किया था।

कांग्रेस रात को पहुंची सुप्रीम कोर्ट...

कर्नाटक में राज्यपाल द्वारा भाजपा को सरकार बनाने का न्योता देने के खिलाफ कांग्रेस ने देर रात को सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। रात 1 बजे मुख्य न्यायाधीश ने मामले की सुनवाई के लिए 3 जजों की बेंच गठित की और 2.10 बजे से सुनवाई शुरू हुई। तडक़े 5.30 बजे तक चली सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस द्वारा येद्दयुरप्पा की शपथ रोकने की मांग को ठुकरा दिया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-supreme court hears bombay blast case in midnight in 2015
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: supreme court, bombay blast case, midnight, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved