• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

INX Media Case : चिदंबरम की तिहाड़ जेल में जमीन पर कटी पहली रात, जेल में बना नाश्ता लेने की जताई इच्छा

P Chidambaram spends restless first night at Tihar jail - India News in Hindi

नई दिल्ली। पी. चिदंबरम देश के पहले पूर्व गृहमंत्री हैं, जिन्हें जेल जाना पड़ा है। यही नहीं तिहाड़ की कोठरी में चिदंबरम की पहली रात जमीन पर गुजरी है, महज तीन-चार कंबल के सहारे। कभी हिंदुस्तान की हुकूमत का सुख भोग चुके और आज के इस हाईप्रोफाइल विचाराधीन कैदी को शुक्रवार को जेल की कोठरी में लकड़ी का तख्त इस्तेमाल करने की इजाजत दी गई है। वह भी तिहाड़ जेल के चिकित्सकों की सलाह के बाद।

गुरुवार को अदालत ने जैसे ही चिदंबरम को न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल भेजने का आदेश सुनाया, कयास लगाया जाने लगा कि चूंकि चिदंबरम को जेड-प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है, इसलिए आर्थिक घोटालों के विचाराधीन कैदी होकर भी वह हाईप्रोफाइल ही रहेंगे। ऐसे में उन्हें तिहाड़ की जेल नंबर-7 में न भेजकर, किसी और जेल में भेज दिया जाएगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ, और उनकी पहली रात जेल नंबर-7 में गुजर चुकी है।

तिहाड़ जेल के महानिदेशक संदीप गोयल ने इस बारे में आईएएनएस से कहा, "उन्हें (पी. चिदंबरम) जेल नंबर-7 में ही रखा गया है। यह सब जेल मैनुअल के अनुसार है।"

जेड प्लस सुरक्षा प्राप्त व्यक्ति को जेल नंबर-7 में कैद करना सुरक्षा के लिहाज से ठीक होगा? संदीप गोयल ने कहा, "जेल में हर कैदी की सर्वोत्तम सुरक्षा की जाती है। बाहर किसको किस श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी, जेल का इससे कोई सरोकार नहीं। कोर्ट और जेल मैनुअल जो कहता है, जेल प्रशासन की जिम्मेदारी उस पर अमल करने की है। जेल में पहुंचा हर कैदी सुरक्षित है।"

गुरुवार शाम ढले जेल पहुंचे चिदंबरम का जेल-चिकित्सकों की टीम ने स्वास्थ्य परीक्षण किया। सब कुछ सामान्य था। इसके बाद ही सहायक जेल अधीक्षक स्तर के अधिकारी और कुछ जेल-वार्डन चिदंबरम को जेल नंबर-7 की उस सेल (छोटी कोठरी) में छोड़ आए, जिसमें अब उन्हें न्यायिक हिरासत के दिन-रात काटने होंगे। तीन-चार कंबल और रोजमर्रा की जरूरत के सामान -प्लास्टिक की कटोरी, चम्मच, प्लेट और गिलास के साथ।

यहां उल्लेखनीय है कि जब कैदियों ने स्टील के बर्तनों को खून-खराबे का साधन बना लिया तो जेल में प्लास्टिक के बर्तनों का चलन शुरू करवाया गया।

तिहाड़ जेल के उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक, "साठ साल से अधिक उम्र के विचाराधीन कैदियों को सोने के लिए लकड़ी का तख्त उपलब्ध कराया जाता है। मगर यह तभी संभव हो पाता है जब जेल के अधिकृत डॉक्टर्स लिखकर दें।"

जेल के एक सूत्र ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया, "गुरुवार रात जेल पहुंचने के वक्त भी जेल चिकित्सकों ने चिदंबरम का स्वास्थ्य परीक्षण किया था, मगर उस वक्त उन्होंने इस हाईप्रोफाइल कैदी को सोने के लिए लकड़ी के तख्त की संस्तुति नहीं की थी। ऐसे में जेल जाने वाले देश के पहले पूर्व गृहमंत्री पी. चिदंबरम को जेल की कोठरी में पहली रात जमीन पर कंबलों को सहारे काटनी पड़ी।"

जेल सूत्रों के मुताबिक, "चिदंबरम की पहली रात जेल में जैसे-तैसे कट गई। सुबह होते ही उन्होंने कोठरी के बाहर निकल कर थोड़े खुले वातावरण में खुली हवा लेने की इच्छा जाहिर की, तो जेल की सुरक्षा में तैनात वार्डन्स ने कोठरी के बाहर निकल कर टहलने की अनुमति उन्हें दे दी।"

तिहाड़ जेल के ही एक अन्य सूत्र ने आईएएनएस को बताया, "चिदंबरम ने शुक्रवार सुबह जेल में बना नाश्ता ही लेने की इच्छा जताई। पूर्वाह्न् में जेल चिकित्सकों ने उनकी दुबारा स्वास्थ्य जांच की। इसी जांच के बाद चिकित्सकों ने जेल प्रशासन को आदेश दिया कि चिदंबरम को सोने के लिए लकड़ी का तख्त मुहैया कराया जाए।"

इस बारे में जेल महानिदेशक संदीप गोयल ने बताया, "जेल चिकित्सकों की सलाह के मुताबिक आज (शुक्रवार) लकड़ी का तख्त उन्हें (चिदंबरम) उपलब्ध करा दिया गया है।"

सवाल अब यह उठता है कि जेल चिकित्सकों ने गुरुवार रात ही चिदंबरम को सोने के लिए लकड़ी के तख्त की संस्तुति क्यों नहीं की? इसका जबाब तिहाड़ जेल का कोई भी अधिकारी देने को तैयार नहीं है।

जेल मैनुअल के मुताबिक, एक दिन में तीन लोग विचाराधीन कैदी की अनुमति से मिल सकते हैं। इसके अनुसार, चिदंबरम के पुत्र कार्ति (जो खुद भी तिहाड़ की सात नंबर जेल में रह चुके हैं) शुक्रवार को पिता से मिलने तिहाड़ पहुंचे। कार्ति के साथ दो अन्य लोग भी थे।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-P Chidambaram spends restless first night at Tihar jail
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: inx media case, p chidambaram, p chidambaram spends restless first night at tihar jail, india news, india news in hindi, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved