• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

वाराणसी के जज को मिला धमकी भरा पत्र, योगी सरकार ने बढ़ाई सुरक्षा

threatening letter received by the judge of varanasi, yogi government increased security - Varanasi News in Hindi

वाराणसी । वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद मामले की सुनवाई करने वाले सिविल जज (सीनियर डिवीजन) रवि दिवाकर को धमकी भरा पत्र मिला है। जिसके बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने उनकी सुरक्षा बढ़ा दी है।

आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया कि रजिस्टर्ड पोस्ट के जरिए यह पत्र मिलने के तुरंत बाद सिविल जज ने अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह), पुलिस महानिदेशक और पुलिस आयुक्त को इसकी जानकारी दी।

वाराणसी के पुलिस आयुक्त ए. सतीश गणेश ने कहा, "पत्र के संबंध में सिविल जज द्वारा सूचना मिलने के बाद, इस मामले को जांच के लिए पुलिस उपायुक्त को सौंप दिया गया है।"

गणेश ने कहा कि वाराणसी के सिविल जज और लखनऊ में उनकी मां की सुरक्षा को भी बढ़ाया जा रहा है।

पत्र में आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया गया है। साथ ही प्रधानमंत्री मोदी और भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश को लेकर भी अपमानजनक टिप्पणी की गई है।

12 मई को जारी अपने एक आदेश में सिविल जज दिवाकर ने कहा कि इस दीवानी मामले को असाधारण मामला बनाकर भय का माहौल बनाया जा रहा है। भय इस कदर है कि मैं और मेरा परिवार डर के साए में जी रहे हैं।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-threatening letter received by the judge of varanasi, yogi government increased security
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: threatening letter received by the judge of varanasi, yogi government increased security, yogi government, yogi adityanath, judge, varanasi, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, varanasi news, varanasi news in hindi, real time varanasi city news, real time news, varanasi news khas khabar, varanasi news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved