• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

निर्भया के दोषियों को फांसी लगाने वाला पवन जल्लाद ने कहा, चारों को कोई पछतावा नहीं था

मेरठ/नई दिल्ली। निर्भया को आखिर सात साल तीन महीने और तीन दिन के लंबे इंतजार के बाद इंसाफ मिल गया है। निर्भया के चारों दोषियों को 20 मार्च को सुबह 5:30 बजे फांसी दे दी गई। पूरे देश ने इस दिन को 'इंसाफ का सवेरा' करार दिया। लोगों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया। इस मामले में नई बात यह निकलकर आई कि निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटाकने वाले पवन जल्लाद ने कहा कि उनको ऐसा कृत्य करने के लिए कोई पछतावा नहीं था।


पवन जल्लाद ने आगे बताया कि फांसी घर में किसी को बोलने की अनुमति नहीं होती है, इस कारण से फांसी वाले दिन केवल इशारों से काम किया गया। मैंने निर्भया के चारों दोषियों को फांसी देकर अपना धर्म निभाया है, यह हमारा पुश्तैनी काम है। उनका कहना था कि फांसी होने से पहले दरिंदों को पश्चाताप होना चाहिए था, लेकिन उनमें से किसी को पश्चाताप नहीं था।

उन्होंने बताया कि वे 17 मार्च के दिन तिहाड़ गए थे और डमी ट्रायल किया। डमी ट्रायल से पहले उन्होंने सबसे पहले फांसी के फंदों को दही और मक्खन से मुलायम किया। अगले दिन सुबह चार बजे फंदों को दोबारा दुरुस्त कर लगाया गया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-justice to nirbhaya hanging the culprits pawan executioner guilty
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: justice to nirbhaya, culprits pawan, tihar jail, nirbhaya gang rape case, people celebrate, nirbhaya, nirbhaya case, nirbhaya convicts hanging, nirbhaya gangrape, nirbhaya case hanging, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, meerut news, meerut news in hindi, real time meerut city news, real time news, meerut news khas khabar, meerut news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved