• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

यूपी में धार्मिक केंद्रों के साथ अब ऐतिहासिक स्थलों पर पर्यटन की नजर, आखिर क्यों, यहां पढ़ें

With religious centers in UP, now the sight of tourism on historical places - Lucknow News in Hindi

लखनऊ । यूपी सरकार ने काशी, अयोध्या, मथुरा, समेत बौद्ध धर्म स्थलों के साथ राज्य के ऐतिहासिक स्थलों पर अपनी नजर टिका दी है। इनके कायाकल्प करने के लिये 341 करोड़ रुपये से विकास कार्य तेजी पर है। अब पर्यटकों को न सिर्फ सनातन और बौद्ध धर्म की जानकारी मिलेगी, बल्कि यहां के वीर सपूतों की कहानी भी जान सकेंगे। हाल ही में मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा के सामने यूपी पर्यटन विभाग ने प्रदेश के महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों को लेकर विस्तृत प्रेजेंटेशन प्रस्तुत किया है।

प्रमुख सचिव पर्यटन मुकेश मेश्राम के अनुसार, तकरीबन 341 करोड़ की लागत से प्रस्तावित इन प्रोजेक्ट्स में साउंड एंड लाइट शो के लिए केंद्र सरकार की ओर से 4, जबकि प्रदेश सरकार की ओर से 15 नये स्थलों को चिह्न्ति किया गया है। इसके अलावा फसाड लाइटिंग से प्रदेश के 4 नये भवनों को भी जगमग करने की तैयारी है। इस प्रकार 23 नये स्थलों को रोशन करने से पर्यटकों का आकर्षण इन स्थलों पर बढेगा, इससे यूपी के पर्यटन उद्योग में बड़ा और सकारात्मक बदलाव दिखना तय है।

बता दें कि यूपी में पर्यटन उद्योग को गति देने के लिए बीते पांच साल में 15 स्थलों पर साउंड एंड लाइट शो शुरू किया जा चुका है। इसके अलावा पांच अन्य स्थलों पर भी काम लगभग पूरा हो चुका है और पर्यटकों के लिए जल्द ही इनका लोकार्पण किया जा सकता है।

19 नये पर्यटन स्थलों को साउंड एंड लाइट शो से जगमग करने की तैयारी हो रही है जो पश्चिमी यूपी के मुजफ्फरनगर से लेकर दक्षिण पूर्वी उत्तर प्रदेश के सोनभद्र तक फैले हुए हैं। यूपी पर्यटन विभाग की ओर से चिह्न्ति 15 स्थलों पर साउंड एंड लाइट शो के लिये 237.81 करोड़ रुपये खर्च करने की तैयारी है, जबकि केंद्र सरकार का पर्यटन विभाग 5 स्थलों को 90.25 करोड़ रुपये से रोशन करने का प्लान तैयार कर चुका है।

जिन पर्यटन स्थलों पर साउंड एंड लाइट शो का प्रस्ताव रखा है उनमें - बांदा स्थित कालिंजर का किला, बांदा नगर का भूरागढ किला, महोबा नगर स्थित मदनसागर में खाखरा मठ, महोबा के गोरखगिरी में गुरु गोरखनाथ जी पर आधारित प्रोजेक्शन शो, महोबा के बेला ताल स्थित मस्तानी महल, महोबा के चरखारी स्थित मंगलगढ किला में बुंदेलखंड के इतिहास पर आधारित लेजर शो, कानपुर के बिठूर में ध्वनि एवं प्रकाश शो, आगरा फोर्ट में ध्वनि एवं प्रकाश शो का अपग्रेडेशन एवं इंस्टॉलेशन, लखनऊ का बिजली पासी किला, कुशीनगर में रामाभर स्तूप, मिर्जापुर स्थित चुनार फोर्ट, मुजफ्फरनगर स्थित शुक्रतीर्थ पयर्टन स्थल पर गंगा किनारे लेजर शो, प्रयागराज का श्रृंगवेरपुर धाम, भदोही का सीतामढ़ी, सोनभद्र में पर्यटन विभाग की भूमि पर 100 व्यक्तियों के बैठने के लिये एम्पीथियेटर का निर्माण तथा साउंड एंड लाइट शो शामिल हैं।

इसके लिये सरकार ने 90.25 करोड़ रुपये प्रस्तावित हैं। इनमें चित्रकूट के गणेश बाग सरोवर में म्यूजिकल फाउंटेन, गोवर्धन (मथुरा) स्थित कुसुम सरोवर में ध्वनि एवं प्रकाश शो, प्रयागराज में ओल्ड कर्जन ब्रिज पर गंगा गैलरी का निर्माण और जीणोद्धार तथा सीतापुर के नैमिषारण्य स्थित चक्रतीर्थ में ध्वनि एवं प्रकाश शो का संचालन शामिल है।

लाइट एंड साउंड शो के अलावा सरकार यूपी के ऐतिहासिक भवनों को फसाड लाइटिंग से भी सुसज्जित करने की तैयारी कर रही है। इसके लिये केंद्र और प्रदेश सरकार की ओर से दो-दो भवनों को चुना गया है। इनमें मेरठ स्थित कमिश्नरी भवन और बांदा स्थित कालिंजर किले की फसाड लाइटिंग का कार्य यूपी सरकार की ओर से कराया जाएगा, जिसके लिये तकरीबन 8 करोड़ का बजट प्रस्तावित है। इसके अलावा चित्रकूट में गणेश बाग और चित्रकूट में ही पुरानी कोतवाली को केंद्र सरकार फसाड लाइटिंग से रोशन करेगी। इसके लिये लगभग 5 करोड़ रुपये प्रस्तावित हैं।

19 नये पर्यटन स्थलों को साउंड एंड लाइट शो से जगमग करने से पहले सरकार 5 नयी जगहों पर आम पर्यटकों के लिये इसे शुरू करने की तैयारी कर चुकी है। इन पर्यटन स्थलों पर साउंड एंड लाइट शो का काम लगभग पूरा हो चुका है। इनमें - प्रयागराज के चंद्रशेखर आजाद पार्क में 6.52 करोड़ से ध्वनि एवं प्रकाश शो का काम लगभग 70 फीसदी पूरा हो चुका है। इसके अलावा बरेली डिस्ट्रिक्ट जेल में 7.30 करोड़ की लागत से साउंड एंड लाइट शो का काम पूरा हो चुका है, जल्द ही इसका लोकार्पण होगा। इसी प्रकार अयोध्या में रामकथा संग्रहालय में डिजिटल इंटरवेंशन 13.84 करोड़ की लागत से तैयार हो चुका है। साथ ही कपिलवस्तु में 7.98 करोड़ की लागत साउंड एंड लाइट शो का कार्य पूरा हो चुका है।

श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, कानपुर, वाराणसी, मेरठ, गोरखपुर, संत कबीर नगर, हापुड़, लखनऊ, झांसी, बरेली, गोरखपुर, प्रयागराज, चित्रकूट, अयोध्या में साउंड एंड लाइट शो और लेजर शो संचालित किया जा रहा है।

वाराणसी में प्रासाद स्कीम के अंतर्गत घाटों की लाइटिंग, मथुरा में प्रासाद स्कीम के अंतर्गत कुसुम सरोवर की फसाड लाइटिंग, चित्रकूट के रामघाट में फसाड लाइटिंग, अयोध्या में गुप्तारा घाट के लिये फसाड लाइट का कार्य, अयोध्या के हनुमानगढ़ी, दशरथ महल, कनक भवन, जानकी मंदिर, दिगंबर अखाड़ा एवं राजद्वार मंदिर में फसाड लाइटिंग, प्रयागराज के शास्त्री ब्रिज पर फसाड लाइटिंग, उन्नाव के चंद्रिका देवी मंदिर में फसाड लाइट स्मारकों को रोशन कर रही हैं।

यूपी के पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह कहते हैं कि यूपी को अगले कुछ सालों में आधुनिक पर्यटन का केंद्र बनाने जा रहे हैं। यहां पर सुविधाएं पर्यटकों को मिलेंगी।

--आईएएनएस




ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-With religious centers in UP, now the sight of tourism on historical places
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: tourism on historical places, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, lucknow news, lucknow news in hindi, real time lucknow city news, real time news, lucknow news khas khabar, lucknow news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved