• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

बुझेगी बुंदेलखंड और विन्ध्य क्षेत्र के लाखों लोगों की प्यास, आखिर कैसे, यहां पढ़ें

Thirst of millions of people of Bundelkhand and Vindhya region, - Lucknow News in Hindi

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के सबसे पिछड़े जिलों में शुमार बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के लाखों लोग निकट भविष्य में प्यासे नहीं रहेंगे। इनको भरपूर मात्रा में शुद्ध पानी मिलेगा। ऐसा केंद्र सरकार की हर घर नल योजना से संभव हो सकेगा। प्रधानमंत्री मोदी के निर्देश पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समय से पहले (2022) योजना को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। आजादी के बाद पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई वाली केंद्र सरकार ने पानी को लेकर लोगों की दुश्वारियों को समझा। उनके मार्गदर्शन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इन योजनाओं को अमल में लाने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं।

पहले चरण में 30 जून को हर घर नल योजना के तहत बुंदेलखंड के सात जिलों के 3622 गांवों के 67 लाख आबादी के लिए 2185 करोड़ रुपये की योजना शुरू की गयी है। दूसरे चरण में 22 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने विंध्य क्षेत्र में 5555 करोड़ रुपये की लागत से हर घर नल योजना की शुरूआत की।

इस योजना से आने वाले वर्षों में विंध्य क्षेत्र के 3000 गांवों के 40 लाख लोगों को पाइप से शुद्ध पानी मिलने लगेगा। आजादी के बाद से अब तक केंद्र और प्रदेश सरकारें विंध्य क्षेत्र के सिर्फ 398 गांवों को ही शुद्ध पेयजल मयस्सर करा सकी थीं। बाकी लोग उपलब्ध जलस्रोतों से प्रदूषित पानी पीने को मजबूर थे। वह भी तब जब इस क्षेत्र से गंगा जैसी सदानीरा नदी बहती है। पानी के अन्य प्राकृतिक जलस्रोत भी हैं। भरपूर पानी की उपलब्धता के बाद भी ये इलाके प्यासे थे।

दोनों योजनाओं को मिला दें तो इनकी लागत 7740 करोड़ रुपये है। इनके पूरा होने पर 6600 से अधिक गांवों के 117 लाख लोगों को शुद्ध पानी मिलने लगेगा। इससे दूर-दराज के क्षेत्रों से पानी लाने की इनकी दुश्वारियां खत्म हो जाएंगी। शुद्ध पानी मिलने से तमाम रोगों से मुक्ति मिलेगी। प्रधानमंत्री के शब्दों में कहें तो लाभान्वित लोगों का जीवन बदल जाएगा।

सेहत के लिए शुद्ध पानी की अहमियत के मद्देनजर मुख्यमंत्री की मंशा हर घर को शुद्ध पानी मुहैया कराने की है। अगले चरण में जिन क्षेत्रों के पानी में आर्सेनिक और फ्लोराइड की मात्रा अधिक है उनमें शुद्ध पानी मुहैया कराने के लिए हर घर नल योजना शुरू की जाएगी। योजना से इंसेफेलाइटिस के लिहाज से संवेदनशील जिले भी संतृप्त किए जाएंगे। केंद्र सरकार की योजना 2024 तक सबको शुद्ध पानी मुहैया कराना है, पर मुख्यमंत्री योगी ने इसके लिए 2022 की डेडलाइन तय कर रखी है। यही वजह है कि बुंदेलखंड में हर घर नल समेत बुंदेलखंड एक्सप्रेस, डिफेंस कॉरीडोर और भगवान राम से जुड़े चित्रकूट और अन्य स्थानों की योजनाओं की क्या प्रगति है इसकी समीक्षा के लिए शीघ्र ही मुख्यमंत्री बुंदेलखंड जाएंगे। मालूम हो कि शुद्ध पानी की अनुपलब्धता दुनिया में बीमारियों की सबसे बड़ी वजह है।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Thirst of millions of people of Bundelkhand and Vindhya region,
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: up news, up hindi news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, lucknow news, lucknow news in hindi, real time lucknow city news, real time news, lucknow news khas khabar, lucknow news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2021 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved