• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

राम मंदिर का मामला सांस्कृतिक मुद्दा, इसे राजनीति से जोडऩा ठीक नहीं : कल्याण सिंह

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने सोमवार को यहां कहा कि राम जन्मभूमि एक सांस्कृतिक मुद्दा है,और इसे राजनीति से जोडऩा ठीक नहीं है। कल्याण सिंह ने अपने आवास पर पत्रकारों से कहा, हम राम मंदिर पर राजनीति नहीं करते हैं क्योंकि यह राजनीतिक मुद्दा नहीं, बल्कि सांस्कृतिक मुद्दा है। राम मंदिर आंदोलन के पहले दिन हमने जो सपना देखा था, वह अब पूरा हुआ है।

कल्याण ने कहा, सुप्रीम कोर्ट का इसे लेकर फैसला पूरी तरह न्यायसंगत व सर्वसमावेशी है। इसी कारण किसी ने भी इसके विरोध में आवाज नहीं उठाई है। कल्याण सिंह ने कहा, अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनना चाहिए। मंदिर बनने के साथ ही अयोध्या का संपूर्ण विकास होना चाहिए। मस्जिद के लिए पांच एकड़ जमीन देने पर उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने न्याय और कानून का पालन किया है, साथ ही समाज की एकता व अखंडता का भी ध्यान रखा है।

उन्होंने कहा कि राम मंदिर आंदोलन के पहले दिन जो संकल्पना लोगों ने बनाई थी, वह पूरी होने जा रही है। देश में नौ नवंबर, 2019 एक ऐतिहासिक दिन था। इस दिन 500 वर्ष पुराने विवाद का खात्मा हुआ। राजस्थान के पूर्व राज्यपाल ने कहा कि वहां पर राम के साथ अयोध्या का विकास होना चाहिए। मैं अयोध्या जरूर जाऊंगा। मैं पहले दिन से ही राम भक्त हूं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Ram Mandir matter is cultural issue, not right to relate with politics : Kalyan Singh
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: ram mandir matter, cultural issue, politics, kalyan singh, former cm kalyan singh, former governor kalyan singh, ayodhya case, uttar pradesh, yogi adityanath, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, lucknow news, lucknow news in hindi, real time lucknow city news, real time news, lucknow news khas khabar, lucknow news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved