• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

यूपी : व्यवसायी ट्रेन के आगे कूदा,परिवार के पांच लोगों ने की आत्महत्या

Five members of family commit suicide in Gorakhpur - Gorakhpur News in Hindi

गोरखपुर। उत्तरप्रदेश के गोरखपुर में एक ही परिवार के पांच लोगों ने कर्ज में डूबे होने के कारण जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर ली। रविवार सुबह उसी मकान में रहने वाले परिवार के अन्य सदस्यों को इसकी जानकारी हुई तो कोहराम मच गया। परिवार के मुखिया का शव सूर्यकुंड रेलवे ट्रैक पर मिला। उसके बाद परिवार के अन्य सदस्यों को सामूहिक आत्महत्या की जानकारी हुई।

खबरों के मुताबिक, गोरखपुर के राजघाट थानाक्षेत्र के हसनगंज में रविवार सुबह एक ही परिवार के 4 लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गई। इस परिवार के मुखिया रमेश ने जहां ट्रेन से कटकर आत्महत्या की। वहीं उसकी पत्नी और तीन बच्चों ने जहर खा लिया। इस घटना में गंभीर मुखिया की लडक़ी को इलाज के लिए मेडिकल कालेज ले जाया गया, जहां उसकी भी इलाज के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा है कि परिवार व्यापार में घाटे की वजह से लाखों के कर्ज में डूबा हुआ था और सूदखोरों की धमकी से परेशान होकर इस आत्मघाती कदम को उठाया।

मृतका सरिता की मां कुसुमलता ने बताया कि उनके दामाद और परिवार के मुखिया रमेश गुप्ता दाल के थोक व्यापारी रहे हैं। वे राजघाट के हसनगंज में 45 वर्षीय पत्नी सरिता, 20 साल की बेटी रचना, 15 साल की बेटी पायल और 10 साल के बेटे आयुश के साथ मकान के तीसरे तल पर रहते रहे हैं। बड़ा बेटा सोनू सहजनवां में रहकर कारोबार करता है।

उन्होंने गीडा में दाल की फैक्ट्री डाली थी। इसी कारण वे कर्ज में डूबते चले गए। वहीं से सूदखोरों और कर्ज देने वालों ने तकादा करना शुरू कर दिया। शनिवार को भी कुछ लोग कर्ज चुकाने के लिए दबाव बनाने आए थे। घर पर काफी विवाद भी हुआ था। उसके बाद देर रात परिवार के लोग सोने चले गए। कैसे ये घटना हुई इसकी जानकारी नहीं हो पाई।

रमेश गुप्ता की बड़ी बेटी को उनके भाई के परिवार के लोगों ने गम्भीर हालात में दरवाजे पर पाया और जब घर के अंदर गए तो वहां रमेश की पत्नी और दो बच्चे बिस्तर में मौत के आगोश में पाए गए। इन सभी ने रात के खाने में जहर मिलाकर खाया था। इसी बीच इस परिवार के मुखिया का शव भी सूरजकुंड इलाके में रेलवे ट्रैक के पास पाया गया। मृतक की भाभी विजयलक्ष्मी ने बताया कि गोरखपुर के हसनगंज निवासी व्यापारी रमेश गुप्ता की महेवा गल्ला मण्डी में दलहन की दुकान है। रमेश ने गीडा इलाके में नमकीन की फैक्ट्री डाली थी और गुड़ का व्यापार भी करते थे। लेकिन, फैक्ट्री के नहीं चलने की वजह से रमेश धीरे-धीरे लाखों के कर्ज में डूब गए। इस कर्ज को भरने के लिए रमेश ने सूदखोरों का सहारा लिया और दूसरी व्यापार में पैसा लगाया। लेकिन, वहां पर भी घाटा होने की वजह से इन के ऊपर 15 लाख से ऊपर की देनदारी हो गई।

सूदखोर हर रोज रमेश की दुकान और घर तक आकर उनको धमकी देते और उनके साथ गाली-गलौज करते थे। इसी वजह से परिवार पिछले 1 महीने से काफी परेशान रहने लगा था। रमेश ने हर जतन कर के देख लिया कि कहीं से उसको कुछ फायदा मिल सके। लेकिन, हर जगह निराशा हाथ लगने की वजह से यह परिवार पूरी तरह से डिप्रेशन का शिकार हो गया था।

रोज रोज की धमकी और सूदखोरों से बचने के लिए रमेश और उसके परिवार में ऐसा आत्मघाती कदम उठाया। इस घटना के संबंध में एसएसपी डा. सुनील गुप्ता का कहना है कि कमरे में मिली लाश को देखकर ये लगता है कि पूरे परिवार ने एक साथ सुसाइड किया है। क्योंकि सभी शव सोते हुए हालत में पाए गए हैं। इस मामले में शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही ये पता चल पाएगा कि आखिर आत्महत्या के लिए किस जहर का इस्तेमाल किया गया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Five members of family commit suicide in Gorakhpur
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: members of family, commit suicide, gorakhpur news, uttar pradesh news in hindi, up news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, gorakhpur news, gorakhpur news in hindi, real time gorakhpur city news, real time news, gorakhpur news khas khabar, gorakhpur news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved