• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

धरती के दूसरे भगवान आए दिन करते हैं मरीजों के साथ खिलवाड़, स्वास्थ्य विभाग इन पर मेहरबान क्यों?

Other gods on earth play havoc with patients every day, why is the health department kind to them? - Allahabad News in Hindi

प्रयागराज। प्रयागराज ज़िले में इन दिनों भीषण गर्मी होने के साथ मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है। दूसरी ओर मानकों की अनदेखी कर रहे प्राइवेट हास्पिटल और निजी क्लीनिक तेजी के साथ फल फूल रहे हैं। वे मनमानी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। हालांकि दावा है कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इन पर निरन्तर नकेल कसा जा रहा है। लेकिन भ्रष्टाचार में डूबे कुछ जिम्मेदार अफसर अपनी जिम्मेदारियों से मुंह मोड़ ले रहें हैं।

सूत्रों की मानें तो ग्रामीण से लेकर शहर तक में गरीबों की जिंदगी से खिलवाड़ करना इन निजी क्लिनिकों और प्राइवेट अस्पतालों की आदत सी बन चुकी है। मानकों को दरकिनार करके लगातार अस्पताल खोले जा रहे हैं। ऐसे दर्जनों हास्पिटल हैं जहां पर न तो चिकित्सक होते हैं और न ही किसी तरह के नियमों का पालन किया जाता है। इसकी रोकथाम करने वाले जिम्मेदार अपने उच्चाधिकारियों को महज़ कागजों पर कारगुजारी दिखाकर रिपोर्ट का खाका तैयार कर पेश कर रहे हैं। बड़े अफसरों का दबाव पड़ता तो स्वास्थ्य विभाग की टीम ऐसे हास्पिटल और क्लिनिक पर समीक्षा करके महज़ नोटिस भेजने का काम करती है।
हास्पिटल हो या क्लीनिक मरीज की हालत कैसी भी हो, उन्हें भर्ती करके इलाज शुरू कर देते हैं। बाद में स्थिति और बिगड़ने पर रेफर कर अपनी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ लेते हैं। इसी वजह से अधिकतर लोग गलत इलाज के कारण अपने मरीजों को खो देते हैं। प्रयागराज ज़िले के विभिन्न क्षेत्रों के साथ सोरांव, मऊआईमा समेत दर्जनों क्षेत्रों में अवैध तरीके से अस्पतालों का संचालन किया जा रहा है। इन अस्पतालों का सीएमओ के यहां से कोई रजिस्ट्रेशन भी नहीं है। कुछ क्लीनिक सिर्फ मेडिकल स्टोर के लाइसेंस पर संचालित हो रही हैं। इसके अलावा अवैध अस्पतालों में दस से बीस बेड भी लगाए गए हैं। सड़कों के किनारे लगे इनके बोर्डों में शहर के नामी चिकित्सकों के नाम लिखे हैं। सरकार की ओर से जारी गाइड लाइन को ध्यान में नहीं रखा जाता है।
सूत्रों की मानें तो अस्पताल बिना लैब टेक्निशियन के खून आदि की जांच नहीं कर सकता है। वहीं अल्ट्रासाउंड के लिए सोनोलाजिस्ट की तैनाती होनी चाहिए। वहीं इन नियमों का भी हास्पिटल में पालन नहीं हो रहा है। फिर भी धड़ल्ले के साथ मानकों की अनदेखी की तस्वीरें मौजूद हैं। इसकी जानकारी जिले के सभी अधिकारियों को है। इसके बावजूद कभी कोई कार्यवाही नहीं की जाती है आखिर किसकी सरपरस्ती में संचालित हो रहा है यह जानना भी जरूरी है ऐसे हास्पिटल क्लिनिक को किसका संरक्षण मिल रहा है जल्द ही अगली सुर्खियों में यह भी बताना बेहद जरूरी है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Other gods on earth play havoc with patients every day, why is the health department kind to them?
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: prayagraj, scorching heat, increasing patients, private hospitals, private clinics, ignoring standards, flourishing, arbitrary practices, uttar pradesh government, crackdown, corruption, responsible officers, neglecting responsibilities, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, allahabad news, allahabad news in hindi, real time allahabad city news, real time news, allahabad news khas khabar, allahabad news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2024 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved