• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

डायन प्रथा और बाल विवाह के उन्मूलन में स्वयंसेवी संगठन भूमिका निभाएं -मुख्यमंत्री

Voluntary organizations play a role in the elimination of witch practice and child marriage - Jaipur News in Hindi

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि महिला सशक्तीकरण की दिशा में काम कर रहे संगठन समाज से डायन प्रथा और बाल विवाह जैसी कुरीतियों एवं अंधविश्वासों के उन्मूलन के लिए आगे आकर राज्य सरकार का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि विज्ञान और तकनीक के इस युग में ऎसी कुप्रथाओं और अंधविश्वासों को उचित नहीं कहा जा सकता। समाज की उन्नति में ये बाधक हैं। सामाजिक संस्थाएं इन कुप्रथाओं के खिलाफ वातावरण तैयार करने में अहम भूमिका निभा सकती हैं।

गहलोत मंगलवार को एकल नारी शक्ति संगठन की 20वीं वर्षगांठ पर आदर्शनगर सेवा सदन में ‘बहिना दूज-जश्न बहिनचारे का‘ कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक समय था जब महिलाओं को घूंघट में रखा जाता था। आज वक्त बदल चुका है। महिलाएं पढ़-लिखकर हर क्षेत्र में सफलता के झंड़े गाड़ रही हैं। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का उदाहरण हम सबके सामने है, जिन्होंने 17 साल तक देश का सफल नेतृत्व किया। उन्होंने परमाणु परीक्षण कर दुनिया में भारत की ताकत का लोहा मनवाया। साथ ही पाकिस्तान के दो टुकड़े कर बांग्लादेश को आजाद कराया। इतनी बड़ी उपलब्धियों पर भी उन्होंने कोई राजनीति नहीं की। श्रीमती गांधी जैसा दृढ़ संकल्प और संघर्ष करने का मजबूत जज्बा हर नारी के मन में होना चाहिए। तभी देश आगे बढ़ेगा।

गहलोत ने कहा कि हमारी सरकार लगातार ऎसे फैसले ले रही है जिससे महिलाओं को उनका हक मिले। सरकारी स्कूलों में बालिकाओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देने की दिशा में हम काम कर रहे हैं। इससे उनमें आत्मविश्वास बढ़ेगा। महिला उत्पीड़न से जुड़े प्रकरणों के त्वरित अनुसंधान के लिए सरकार ने हर जिले में पुलिस उप अधीक्षक स्तर के अधिकारी लगाए हैं। साथ ही विधवा एवं वृद्धावस्था पेंशन में भी बढ़ोतरी की गई है। मुख्यमंत्री ने एकल नारी शक्ति संगठन से जुड़ी महिलाओं को संस्था की 20वीं वर्षगांठ की बधाई देते हुए कहा कि वे बालिकाओं को शिक्षा से जोड़ने में भी भागीदारी निभाएं।


भारत में कनाड़ा की डिप्टी हाई कमिश्नर डी. केंट ने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि राजस्थान सरकार महिला सशक्तीकरण की दिशा में प्राथमिकता के साथ काम कर रही है। एकल नारी शक्ति संगठन से जुड़ी डॉ. जिनी श्रीवास्तव तथा लाली धाकड़ ने कहा कि प्रदेश की करीब 70 हजार महिलाएं संगठन से जुड़ी हैं और विधवा, परित्यकता एवं तलाकशुदा महिलाओं को समाज में सम्मान दिलाने के लिए काम कर रही हैं। इस अवसर पर पुस्तिका ‘बदलाव की मिसाल-एकल महिला‘ का विमोचन भी किया गया।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Voluntary organizations play a role in the elimination of witch practice and child marriage
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: child marriage, chief minister ashok gehlot, cm ashok gehlot, cm rajasthan, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2019 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved