• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

त्रुटिपूर्ण बिजली विपत्र जारी होने के मामले की होगी जांच संभागीय मुख्य अभियंता जयपुर जोन को जांच करने के निर्देश

The case of issue of erroneous electricity bill will be investigated. Instructions to Divisional Chief Engineer Jaipur Zone to investigate - Jaipur News in Hindi

जांच में दोषी पाए जाने वाले कार्मिकों पर होगी आवश्यक कार्रवाई


जयपुर l डिस्काम प्रबंधन ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं की बिजली उपभोक्ताओं सही रीडिंग का बिल समय पर उपलब्ध करवाया जाना सुनिश्चित किया जाए । इसमें किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाए । गौरतलब है कि पिछले दिनों जयपुर के एक विद्युत उपभोक्ता को त्रुटि पूर्ण विपत्र मिलने के प्रकरण को डिस्कॉम प्रबंधन ने गंभीरता से लिया है और सख्त निर्देश दिए हैं कि उपभोक्ता को जारी किए जाने वाले विपत्र की जांच करवाने के उपरांत ही विपत्र उपलब्ध करवाया जाए ।

20 अप्रैल को एक दैनिक समाचार पत्र में प्रकाशित न्यूज़ - जयपुर में घर का बिजली बिल 9.53 करोड़ आया:एक साल से सोलर पैनल लगे हैं, पिछले महीने माइनस में आया था बिल के सन्दर्भ मे लेख है कि मीटर रीडर द्वारा मोबाइल से रीडिंग एंटर करते समय मानवीय गलती के कारण वर्तमान पठन मे अतिरिक्त अंक जुड़ जाने से वर्तमान पठन 11234473 अंकित हो गया, जिससे कुल उपभोग बढ़ जाने के कारण इतना अधिक राशि का बिल उपभोक्ता को ऑनलाइन द्वारा 19.04.2024 प्राप्त हो गया था ।

इस प्रकरण में गलती पता लगते ही उक्त बिल को सुधार कर उपभोक्ता को संशोधित बिल 19.04.2024 को ही जारी कर दिया गया था । उल्लेखनीय है कि जिन घरो मे सोलर सिस्टम नहीं लगा हुआ है उनकी मीटर रीडिंग स्पॉट पे लेकर वही स्पॉट बिल जारी कर दिया जाता है एवं जिन घरो मे सोलर सिस्टम लगा हुआ है उनकी रीडिंग तो स्पॉट पर मोबाइल द्वारा ली जाती है परंतु बिल ऑफिस से जारी किया जाता है ।

सॉफ्टवेयर मे बल्क बिल जनरेशन के समय किसी प्रकार के वेलिडेशन रिपोर्ट/ स्क्रीनिंग रिपोर्ट की सुविधा ना होने के कारण ये गलती हुई है मेल आईडी व मोबाइल नंबर लिंक होने के कारण बिल बनते ही चेक होने से पहले ही उपभोक्ता को सॉफ्टवेयर द्वारा आटोमेटिक ही चला जाता है ।

भविष्य में इस प्रकार की गलती को रोकने के लिए बिलिंग एजेंसी को सॉफ्टवेयर मे 7 दिवस मे मान्यकरण (वेलिडेशन) लगाने हेतु एवं वेलिडेशन रिपोर्ट / स्क्रीनिंग रिपोर्ट बनाने हेतु निर्देशित कर दिया गया है जोनल चीफ इंजीनियर (J /Z) को पूरे प्रकरण की जांच कर 3 दिवस मे दोषी कर्मचारियों / अधिकारिओ पर आवश्यक कार्यवाही करने को निर्देशित कर दिया है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-The case of issue of erroneous electricity bill will be investigated. Instructions to Divisional Chief Engineer Jaipur Zone to investigate
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: case of issue, erroneous electricity, investigated, instructions to divisional, chief engineer, jaipur zone, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2024 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved