• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2019 - कहानीकार अपनी प्रेरणा के बारे में बताएंगे

Storytellers will tell about their inspiration - Jaipur News in Hindi

जयपुर । जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के 12वें संस्करण (24 से 28 जनवरी, 2019 को, डिग्गी पैलेस, जयपुर) की आमद में, सभी की आंखें इसके प्रोग्राम की तरफ लगी हैं। हमेशा की तरह, इस बार भी, दुनिया भर के नामी-गिरामी कहानीकार, बेहतरीन सत्रों के साथ जयपुर में उपस्थित रहेंगे।

द अंडरग्राउंड रेलरोड सत्र, जिसका नाम कोलसन वाइटहेड के दिल को छू लेने वाले उपन्यास, टूर दे फोर्स, पर पड़ा। यह एक ऐसी युवा दासी के रोमांचक सफर की कहानी है, जो लड़ाई के पूर्व के साउथ में, अपनी आजादी के लिए कुछ भी करने को तैयार है। इस उपन्यास को 2016 में पुलित्ज़र पुरस्कार से नवाजा गया। इसके लेखक पहली बार साउथ एषिया आ रहे हैं और वह उपन्यासकार कनिष्क थरूर से बात करेंगे।

नाइजीरियाई लेखक और कवि बेन ओकरी के मैन बुकर-विजेता उपन्यास, द फेमिश्ड रोड, में एक युवती को सिर्फ ये शब्द बोलने के लिए गिरफ्तार कर लिया जाता है - ‘कैदी कौन है?’ ये सवाल पूरे उपन्यास में गूंजता रहता है और इसका जवाब अप्रत्यक्ष रूप से कहानी के गहरे राज में छिपा होता है। उपन्यासकार राणादास गुप्ता से बात करते हुए, ओकरी द फ्रीडम आर्टिस्ट सत्र में, अपनी जिंदगी और काम के बारे में बात करेंगे।

फेस्टिवल में अनेकों सत्र, उपन्यास की षैली और कथा-वस्तु पर योजित किए गए हैं।

एक यादगार और महान उपन्यास लिखे जाने की प्रक्रिया में द राइटर एट वर्क सत्र में, दुनिया के पांच मशहूर उपन्यासकार - अहदाफ सूफी, अल्वारो एनरिग, कोलसन वाइटहेड, हरिकुंजरू और यान मारटेल - चंद्रहास चैधरी से प्रेरणा की अपनी तलाष पर बात करेंगे।

दुनिया के पांच महान उपन्यासकार - विक्रम चंद्रा, सेबेस्टियन बेरी, एंड्रयु सीन ग्रीर, तानिया जेम्स और बेन ओकरी, वेयर डज फिक्षन कम फ्राॅम सत्र में, उपन्यास लिखने की कला के बारे में अपना नजरिये से अवगत कराएंगे। ‘कथा लिखने की प्रक्रिया’ के सवाल पर वो चर्चा करेंगे और ‘आप अपने किरदारों और कथावस्तु को विश्वसनीय कैसे बनायें’ और ‘पाठक उससे कैसे जुड़ाव महसूस करे’ जैसे मसलों पर यहां गहन चर्चा होगी।

द न्यू याॅर्क नाॅवेल सत्र में, न्यू याॅर्क पर, विस्थापितों के नगर के रूप में चर्चा होगी, जहां भिन्न-भिन्न जगहों से आए प्रवासियों का इतिहास है, जिन्होंने लेखन की नियति बदल डाली। इन प्रवासियों में - कैलिफोर्निया से जिम्बाब्वे, नाॅर्थ लंदन से कष्मीर और इलिनोय से बांग्लादेश तक के लोग शामिल हैं। इस सत्र में, नोवायलेट बुलावायो, तानिया जेम्स और तन्वी नंदिनी इस्लाम उपन्यासकार हरिकुंजरू के साथ चर्चा करेंगे।

एंड्रयु सीन ग्रीर का गीतात्मक लेकिन जबरदस्त उपन्यास, लैस, एक ऐसे संघर्षशील लेखक की कहानी कहता है, जो षादी से बचने के लिए, दुनियाभर में मौज-मस्ती करते हुए घूमता है। इस उपन्यास को 2018 के पुलित्ज़र पुरस्कार से सम्मानित किया गया। लेखिका अनीता नायर का उपन्यास, ईटिंग वास्प्स, एक पैंतीस वर्षीय लेखिका की कहानी कहता है, जो पचास साल पहले खुद को खत्म कर लेती है। राइटिंग अबाउट राइटिंग सत्र में, लेखक प्रयाग अकबर से बात करते हुए ग्रीर और नायर लेखन की खुशी और गम के बारे में बताएंगे, और बताएंगे कि लेखकों के बारे में लिखने का वास्तव में क्या मतलब होता है।

एलेक्जैंडर मैकाॅल स्मिथ, अंग्रेजी भाषा के सबसे पंसदीदा कहानीकार हैं, जिनके अनेकों उपन्यासों ने दुनिया भर के पाठकों पर अपना जादू चलाया है। उनके कुछ उपन्यास हैंः द नं. 1 लेडीज’स डिटेक्टिव एजेंसी, 44 स्काॅटलैंड स्ट्रीट, द संडे फिलोसोफी क्लब। स्मिथ एक बार फिर से फेस्टिवल में आ रहे हैं। टी टाइम फाॅर द ट्रेडिशनली बिल्ट सत्र में, फेस्टिवल के निदेशक विलियम डैलरिंपल, स्मिथ के साथ बात करेंगे।

जैफ्री आर्चर, कामयाब उपन्यासकार, घुमावदार कहानियों में माहिर, अकेले ऐसे लेखक हैं, जो फिक्षन श्रेणी में नंबर वन (19 बार) रहे। लेखिका और पत्रकार बरखा दत्त से बात करते हुए, आप अपने असाधारण साहित्यिक कैरियर और राजनीतिक अनुभव के साथ, अपनी नई प्रकाषित किताब, हेड्स यू विन, पर भी बात करेंगे।

लाजवाब गद्य की लेखिका अनुराधा राॅय से बात करेंगी तिशानी दोषी। अनुराधा अपने काम और हालिया प्रकाशित उपन्यास, आॅल द लाइव्स वी नेवर लिव्ड, पर बात करेंगी। यह उपन्यास प्यार और जुदाई की जबरदस्त अभिव्यक्ति करते हुए, उन आदमियों और औरतों के ऐसे खतरनाक माहौल में फंसे होने की कहानी कहता है, जो बिल्कुल वर्तमान हालात को दर्शाता है।

‘बिफोर एंड आफ्टर पाई’ सत्र में, मैन बुकर विजेता यान मारटेल, जिनके अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त उपन्यास ने अविश्वसनीय ऊंचाइयों को छुआ, इस उपन्यास से पहले और उसके बाद की जिंदगी पर बात करेंगे। यह उपन्यास फिल्म के रूप में भी उतना ही सफल रहा। मंच पर मारटेल के साथ उपन्यासकार जैरी पिंटो भी मौजूद रहेंगे।

काॅल मी बाय योअर नेम एक स्वतः और शक्तिशाली रोमांस की कहानी है, जो एक किशोर लड़के और उसके अभिभावकों के पहाड़ों पर बने बंगले में गर्मियां बिताने आई, मेहमान के बीच पनप जाता है। यह अंतरंगता और सेक्षुअलिटी का अद्भुत मिश्रण है, जो अपनी रोचकता में बांधकर पाठक को किसी और ही दुनिया में पहुंचा देता है। इस उपन्यास पर बाद में इसी नाम से एक सफल फिल्म भी बनी, जिसकी पटकथा जेम्स आइवरी ने लिखी। ऐसमैन उपन्यास के बनने की कहानी और उसके फिल्मी रूप पर अपने विचार अनंदिता घोष के साथ साझा करेंगे।

वास्तविक लेखन सच्चे प्यार की तरह होता है, जो अपने आप में कई सारी नेमतें लेकर आता है! इसमें गहरा मनोविज्ञान, परंपरा, भौगोलिक-राजनैतिक और सामाजिक-सांस्कृतिक संदर्भों के साथ ही प्रायः पीढ़ियों से चले आने वाला साहस भी होता है। कभी-कभी इसे यहूदी उपन्यास के विचार से भी प्रतिबिम्बित किया जाता है। सवाल यह उठता है कि क्या यह श्रेणी वास्तव में है या फिर ये महज यहूदी उपन्यासकारों का निजी उपक्रम, जिसे वे अक्सर अभिव्यक्त करने में सफल हो पाते हैं। द ज्यूइष नाॅवल सत्र में, आंद्रे ऐसमैन, रूबी वैक्स, साइमन सेबग माॅन्टेफाॅयर, टोवा रेच साहित्य और यहूदीपन पर जै़क्री लीडर के साथ चर्चा करेंगे।

क्या हो जब एक देश रातोंरात बदल जाये और आपके पड़ोसी, आपके पुराने स्कूल के दोस्त, यहां तक कि परिवार के सदस्य भी आपके दुश्मन बन जाएं? जाति, धर्म और राजनैतिक हिंसा से विभाजित हुए तीन देशों के लेखक, मिस्र से यास्मीन अल राशीदी, आयरलैंड से सेबेस्टियन बैरी और श्रीलंका से अनुक अरूड प्रगासम, ए हाउस डिवाइडिडः आॅफ फिक्शन एंड सिविल वार्स, सत्र में इस विषय पर चर्चा करेंगे।

लेखन को शैली या भूगोल की सीमाओं में नहीं बांधा जा सकता, ऐसे में द स्टोरीवालाः राइटिंग अक्राॅस बाॅर्डर्स सत्र में, नीलेष मिश्रा से बात करेंगे अमिताव कुमार। ‘स्टोरीवाला’ नाम से मशहूर मिश्रा ने लेखन के अनेकों क्षेत्रों में अपनी धाक जमाई है। अमिताव कुमार से बात करते हुए, वह एक लेखक, पत्रकार, मार्गदर्शकक, कहानीवाचक, गांव की बयानगी, पटकथा लेखन और गीतकार के रूप में अपने काम पर रोशनी डालेंगे।

द धर्म आॅफ द स्टोरीटेलर सत्र में, नामी लेखक अश्विन सांघी अपनी, द भारत सीरिज पर बात करते हुए, कहानीकार के ‘धर्म’ पर मेघना पंत से बात करेंगे। वो बतायेंगे कि कैसे वो अपनी कहानी और पात्रों को जीवंत करते हैं।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Storytellers will tell about their inspiration
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: jaipur literature festival, jaipur literature festival2019, jaipur literature festival -2019, jlf -2019, jlf2019, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved