• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

आनन-फानन में विधानसभा सत्र बुलाया जाना सरकार की नियत और निष्ठा पर सवाल खड़े करता है: डाॅ. सतीश पूनिया

Satish Poonia said, Calling an assembly session in a hurry raises questions about the governments determination and loyalty - Jaipur News in Hindi

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनिया ने शुक्रवार को राजस्थान विधानसभा में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार का दलित विरोधी चेहरा सामने आया गया। केन्द्र सरकार ने अनुसूचित जाति एवं जनजाति के आरक्षण को 1.5 माह पूर्व लोकसभा व राज्यसभा में पारित कर 10 वर्षों के लिए आगे बढ़ाया है। इस विधेयक को 18 राज्यों ने लागू कर दिया है। यह विधेयक 25 जनवरी से पहले ही लागू हो जाना चाहिए था, किन्तु कुम्भकरण की नींद से भी अधिक सोई प्रदेश की कांग्रेस सरकार इस विधेयक पर गंभीर नहीं दिखी और एस.सी./एस.टी. विधेयक प्रदेश में अभी तक पारित नहीं हुआ।
प्रदेश में जब से कांग्रेस सरकार आई, तब से दलितों पर अत्याचारों का ग्राफ दिन प्रति दिन बढ़ता गया और आज देश में मध्यप्रदेश के बाद राजस्थान दलितों पर अत्याचार पर दूसरे नम्बर पर है, अपनी इसी गलती को ढ़कने के लिए आनन-फानन में विधानसभा सत्र बुलाया जाना और बजट सत्र में विधायकों को प्रश्नों की तैयारी के लिए समय नहीं देना गलत है। आमतौर पर 21 दिन के नोटिस के बाद बजट सत्र को बुलाया जाता है, इस तरीके से जल्दबाजी में सत्र को बुलाया जाना सरकार की नियत और निष्ठा पर सवाल खड़े करता है। आज इस सरकार का अलोकतांत्रिक चेहरा उजागर हो चुका है।

डाॅ. पूनिया ने कहा कि पंचायत चुनावों का समय पर ना होना, सरकार की अकर्मण्यता को दर्शाता है। यह सरकार शासन करने में पूर्ण रूप से विफल हो गई है। पश्चिमी राजस्थान में टिड्डी दल के हमले से किसान बदहाल एवं पूर्वी राजस्थान के किसान की फसल पाले की चपेट से चौपट हो गई है, किन्तु गहलोत सरकार किसानों के प्रति मौन धारण किए हुए हैं, इस त्रासदी पर इनका बिल्कुल ध्यान नहीं है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार 13 महीनों में ही घुटने टेक चुकी है। इन्होंने मान लिया है कि प्रदेश की कानून व्यवस्था को हम नहीं संभाल सकते। किसानों की उन्नति के लिए हम कुछ नहीं कर सकते।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Satish Poonia said, Calling an assembly session in a hurry raises questions about the governments determination and loyalty
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: rajasthan, bharatiya janata party, bjp head of state dr satish poonia, satish poonia, rajasthan legislative assembly, chief minister ashok gehlot, anti-dalit government, assembly session, jaipur news, rajasthan news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved